छापेमारी में पकड़ी गयी अवैध गुटखा फैक्ट्री

भारी मात्रा में गुटका बनाने का रैपर, ऑटोमेटिक मशीन के साथ दो  गिरफ्तार 

महाराजगंज। वर्षो से चल रहे फर्जीवाड़े का खुलासा महाराजगंज पुलिस ने छापा मार कर भारी मात्रा में गुटखा बनाने का रैपर ऑटोमेटिक मशीन के साथ दो लोगों को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया है।
बताते चले कि वर्षों से पुलिस व कुछ लोगों के संरक्षण में अवैध रूप से गुटखा बनाने का धंधा चलाया जा रहा था जिसे पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर पर बीती रात्रि भारी पुलिस बल के साथ गुटके को पैकिंग करते ऑटोमेटिक पाउच पैकिंग मशीन को बरामद कर गुटका बनाने के भारी मात्रा में रैपर, अधबने गुटखा, सुपारी, 14 बोरी गुटका (नया दोस्त सुपारी गुटका) 6 बोरी सुगंधित तम्बाकू, 10 बोरी कटी सुपारी, एक बोरी खाली रैपर 8 रोल धागा 1 कटर मशीन 1 बोरी सिलने वाली मशीन बरामद कर मौके से पवन कुमार गुप्ता और उमेश सिंह को गिरफ्तार कर खाद एवं तंबाकू अधिनियम 2003 व 63/65
कॉपीराइट अधिनियम के तहत धारा 269 467 468 471 का मुकदमा दर्ज कर लिया थाना महाराजगंज ने 30 नवंबर 2018 में उपनिरीक्षक चंद्र मणि यादव प्रेम गौतम कमलेश चंद्र सुमित कुमार वर्मा कांस्टेबल रामेश्वर सिंह जय भीम सिंह दलबीर सिंह मुखबिर की सूचना पर ग्राम ताहिर पुर बरौली मरना मोड़ पर पवन गुप्ता सन ऑफ महेश प्रसाद गुप्ता पूरा बाजार थाना महाराजगंज अपने साथी उमेश सिंह उर्फ डब्बू पुत्र तेजभान सिंह निवासी ग्राम नारा थाना महाराजगंज के साथ मिलकर नकली गुटखा की फैक्ट्री में गुटखा बना रहा था। इस अवैध कारोबार की गोपनीय तरीके से जानकारी हुई जिस पर गोपनीय जांच कराकर अवैध धंधे की पुष्टि करके छापे मारी की। योजना बना कर रात्रि का समय निश्चित किया गया ताकि बहुत ज्यादा भीड़ भाड़ न हो। छापेमारी को अंजाम देने के लिए महाराजगंज थाना पुलिस भारी भरकम एक टीम लेकर घटना को अंजाम दिया गया।

इसे भी पढ़े  हादसे में तीन कैटरिंग कर्मियों की मौत, एक घायल

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More