The news is by your side.

विद्वान व बहादुर थे इब्राहिम रईसी : मौलाना मोहसिन

-हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी व उनके साथियों के गम में हुई शोक सभा


अयोध्या। इब्राहिम रईसी वह विद्वान एवं बहादुर व्यक्ति थे जिन्होंने दुनिया को जुल्म एवं अन्याय के खिलाफ आवाज बुलंद करने का हौसला दिया। 3 वर्ष के अपने राष्ट्रपति के छोटे से कार्यकाल में जहां उन्होंने अपने मित्र देशों से संबंध सुद्धढ किये, वहीं उन्होंने छोटे एवं कमजोर देशो पर अन्याय एवं जुल्म करने वाले शक्तिशाली देशो की आंखों में आंखें डालकर बात की।

Advertisements

उक्त बातें मौलाना मोहसिन ने हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए अयातुल्लाह सैयद इब्राहिम रईसी राष्ट्रपति-ईरान, अयातुल्लाह सैयद मोहम्मद अली हाशिम-इमाम ए जुमा,डॉक्टर हुसैन अमीर अब्दुलहियान विदेश मंत्री-ईरान, डॉक्टर मालिक रहमती, सरदार सैयद मेहंदी मूसवी एव उनके साथियों के गम में आयोजित शोक सभा एवं मजलिस ए अजा मे व्यक्त की।

बज्म ए अब्बासिया एवं प्रबन्ध समिति-मोती मस्जिद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित शोक सभा को संबोधित करते हुए मौलाना जाफर रजा- इमाम ए जुमा अयोध्या ने इब्राहिम रईसी के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला और कहा कि रईसी ने दीन पर चलते हुए बहादुरी के साथ विकसित ईरान को विश्व पटल पर प्रस्तुत किया। शोक सभा का प्रारंभ मुहम्मद खादिम ने तिलावत ए कुरान से किया। अली हैदर एवं हम्जा अकबरपुरी ने ताजियती कलाम पेश किए।

शोक सभा का संचालन मोती मस्जिद प्रबंध समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर मिर्जा शहाब शाह ने किया। आए हुए गम जदा मेहमानों को धन्यवाद, मिर्जा साजिद रजा सचिव- मोती मस्जिद एवं नवाब आफताब आलम सचिव-बज्म ए अब्बासिया ने दिया।

 

Advertisements

Comments are closed.