होटल के कमरे को बना रखा था जुआ खाना, 11 गिरफ्तार

-एक लाख 60 हजार  व 10 मोबाइल फोन बरामद

अयोध्या। कानून की नजरों से बचने के लिए ताश के पत्तों पर दांव लगाने वाले शौकीनों ने सिविल लाइन स्थित एक चर्चित होटल के कमरे को जुआ खाना बना रखा था। हालांकि किसी ने मामले की खबर पुलिस को दे दी। कोतवाली पुलिस ने छापामार 11 को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से ताश की गड्डी, एक लाख 60 हजार रुपये और 10 मोबाइल बरामद किया है। इधर बीच क्रिकेट मैच पर सट्टेबाजी और ताश के पत्तों पर दांव लगाने की लत ने जोर पकड़ रखी है। शहर से गांव तक लोग शॉर्टकट तरीके से धनवान बनने के लिए दांव लगा रहे हैं, तो इस गोरखधंधे के पीछे छिपे मास्टरमाइंड लोग ऐसे लोगों को शिकार बनाकर मालामाल हो रहे हैं। आए दिन पुलिस विभिन्न थाना क्षेत्रों में जुआ और सट्टा के गोरखधंधे का खुलासा कर रही है। हालांकि शुक्रवार को इस मामले में सबसे चर्चित वाकया सामने आया है।
शुक्रवार को क्षेत्राधिकारी नगर सहायक पुलिस अधीक्षक निपुण अग्रवाल ने बताया कि डीआईजी/एसएसपी दीपक कुमार के निर्देश पर अपराध और अपराधियों पर नियंत्रण को लेकर विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत नगर कोतवाली पुलिस को सूचना मिली कि शहर के सिविल लाइन स्थित एक चर्चित होटल के कमरे में जुआ खेलवाया जा रहा है। मामले की जानकारी पर नगर कोतवाल नितीश श्रीवास्तव ने पुलिस की टीम बनाकर छापा मारा। पुलिस ने मौके से जुआ खेल रहे 11 लोगों को गिरफ्तार किया है।

जुआ खेलते गए पकड़े

-कोतवाली पुलिस ने होटल के कमरे में जुआ खेल रहे नगर कोतवाली के टकसाल मोहल्ला निवासी मनोज कुमार, राकेश खत्री, राजेश कुमार खत्री, महेश कुमार खत्री, बृजेश चंगुलानी, उमेश कुमार तोलानी, इनके भाई दिनेश कुमार तोलानी, कोतवाली के ही मोहल्ला रामनगर निवासी दिनेश कुमार खत्री, मकबरा रामनगर निवासी सुनील कुमार, कंधारी बाजार रिकाबगंज निवासी नितिन केवलानी व मनोज कुमार को पकड़ा है। मौके से पुलिस ने ताश की दो गड्डी, 10 मोबाइल फोन और कुल एक लाख 60 हजार रुपये बरामद किया है।उन्होंने बताया कि पुलिस ने सभी के खिलाफ जुआ अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत करवा चालान किया है

इसे भी पढ़े  नेट परीक्षा उत्तीर्ण कर गरिमा मिश्र ने बढ़ाया मान

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More