शहीदो के सजोऐ सपनों को पूरा करने मे सरकारे नाकाम: सूर्यकांत

0
  • क्रान्तिकारियो की विरासत को नई पीढ़ी तक पहुंचाना है आवश्यक: डाॅ. निर्मल खत्री

  • शहादत स्थल पर मनाई गयी अशफाक उल्ला खा की जयंती

फैजाबाद। अमर शहीद अशफाक उल्ला खा की जयंती शहादत स्थल मंडल कारागार मे समारोह पूर्वक आयोजित की गई। अशफाक उल्ला खान मेमोरियल शहीद शोध संस्थान द्वारा आयोजित विचार गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए पूर्व सांसद निर्मल खत्री ने कहा कि शहीदो की विचारधारा के आधार पर ही समाज मे व्याप्त सामाजिक विषमता को मिटाया जा सकता है ।उन्होंने संस्थान की प्रशंसा करते हुए कहा कि क्रान्तिकारियो की विरासत को नई पीढ़ी तक पहुंचाना मौजूदा दौर मे बहुत आवश्यक है ।  संस्थान के प्रबंध निदेशक सूर्य कान्त पाण्डेय ने गोष्ठी का विषय प्रस्तुत किया । उन्होंने कहा कि शहीदो ने देश के लिए जो सपने सजोऐ थे उसे पूरा करने मे सरकारे नाकाम रही है । श्री पाण्डेय ने कहा कि संस्थान देश के लिए देखे गए उनके सपनो को साकार करने के लिए प्रयास करता रहेगा । पूर्व मंत्री तेज नारायण पाण्डेय पवन ने कहा कि समाज की हिफाजत समाजवादी रास्ते से ही संभव है ।उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार क्रांतिकारी विरासत को इस्तेमाल करने के फिराक मे इतिहास से छेड़खानी करने का प्रयास कर रही है ।
विचार गोष्ठी की अध्यक्षता संस्थान के अध्यक्ष सलाम जाफरी तथा संचालन समाजसेवी शोभा गुप्ता ने किया ।गोष्ठी मे मे ही माटी रतन सम्मान चयन समिति की घोषणा की गयी ।चयन समिति मे सै आफताब रजा रिजवी, स्वप्निल श्रीवास्तव, रामशरण अवश्थी सदस्य होंगे ।समिति 22 नवम्बर तक चयनित नाम घोषित करेगी।इसके पूर्व शहीद अशफाक उल्ला खान की प्रतिमा पर उपस्थित लोगो ने माल्यार्पण कर समारोह प्रारंभ किया ।गोष्ठी मे दिल्ली से आए पत्रकार तारिक मंजूर ने काकोरी ऐक्शन पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि क्रातिकारी आन्दोलन देश को स्वर्णिम इतिहास प्रदान करता है ।यह इतिहास देश के नवजवानो को प्रेरणा प्रदान करता है ।
समारोह के दूसरे सत्र मे काव्य पाठ सम्पन्न हुआ जिसकी अध्यक्षता स्वप्निल श्रीवास्तव तथा संचालन रामानंद सागर ने किया ।काव्य पाठ करने वालो मे तारिक मंजूर, फारूक फैजाबादी सलाम जाफरी शाहिद जमाल इल्तेफात माहिर, मसरूर अल्वी, मजहर सुल्तानपुरी, प्रमुख थे ।सभी शायरो को प्रतीक चिह्न और शाल भेटकर सम्मानित किया गया ।
गोष्ठी को सम्बोधित करने वालो मे ओम प्रकाश सिंह, कृष्ण कुमार मिश्रा, राजेन्द्र प्रसाद सिंह, डा संजय तिवारी, शैलेंद्र मणि पाण्डेय, अशोक तिवारी, राम तीर्थ पाठक, आदि प्रमुख थे ।संस्थान के उपाध्यक्ष जसवीर सिंह सेठी हामीदा अजीज कोषाध्यक्ष अब्दुल रहमान भोलू, विकास सोनकर, मंत्री विश्व प्रताप सिंह अंशू, आशीष जायसवाल, शिवम विश्वकर्मा, विनीत कनौजिया, करन त्रिपाठी , हर्ष शर्मा ने माल्यार्पण किया ।

इसे भी पढ़े  गणेश वंदना से हुआ अयोध्या की रामलीला का भव्य आगाज

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: