The news is by your side.

महाराजा इंटर कालेज के पूर्व प्राचार्य सुधांशु मिश्र का निधन

-जनपद में शोक की लहर, 2003 में मिला था राष्ट्रपति पुरस्कार

अयोध्या। जनपद में शिक्षा के लिए समर्पण के साथ विशिष्ट योगदान के लिए पहचान रखने वाले महाराजा इंटर कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य व राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित सुधांशु मिश्र का मंगलवार को सुबह निधन हो गया। 82 वर्षीय सुधांशु मिश्र अपने पीछे पत्नी, दो पुत्र, दो पुत्रियां सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए है। राजसदन अयोध्या परिवार के महाराजा इंटर कॉलेज में प्रधानाचार्य का पद संभालने के बाद उन्होंने शिक्षा के विकास, छात्रों के भविष्य और शैक्षिक वातावरण को बेहतर बनाने में अपना जीवन समर्पित कर दिया। छात्रों को सर्वश्रेष्ठ शिक्षा, शैक्षिक वातावरण के साथ प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करने के लिए आसपास के जनपदों में सुधांशु मिश्र का खासा नाम रहा।

Advertisements

माध्यमिक स्कूल में कोएजुकेशन का अनूठा प्रयोग कर उन्होंने शिक्षा को नई दिशा दी और छात्राओं में आत्मविश्वास पैदा किया। वर्ष 2003 में सुधांशु एक को शिक्षा में विशिष्ट योगदान के लिए राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. मुरली मनोहर जोशी के सानिध्य में फिजिक्स से एमएससी और बीएड किया।बड़ी संख्या में छात्र छात्राओं को स्वयं के प्रयास से प्रतियोगिताओं में सफलता दिलाने में सहयोग किया। राजनीतिक क्षेत्र में भी विशिष्ट संबंध के बावजूद कभी राजनीति में नही गए और स्वयं का जीवन शिक्षा के लिए समर्पित कर दिया। नगर के रिकाबगंज स्थित बलरामपुर हाउस निवासी सुधांशु मिश्र को गत तीन दिन पूर्व अस्वस्थ होने पर लखनऊ के निजी अस्पताल में दाखिल किया गया। मंगलवार की सुबह घर पहुंचने के आधे घंटे बाद ही उनका निधन हो गया। शोकाकुल उनके पुत्र वरिष्ठ अधिवक्ता सौरभ मिश्र, प्रो. गौरव मिश्र, पुत्रियां जिला मलेरिया अधिकारी नवनिधि मिश्रा व शिक्षिका स्वस्तिका मिश्रा को सांत्वना देने वालों का तांता लगा रहा।

इसे भी पढ़े  सिपाही ने महिला आरक्षी के साथ की छेड़खानी, मुकदमा दर्ज

वहीं सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य सुधांशु मिश्र के निधन पर महाराजा इण्टर कालेज परिवार में शोक की लहर व्याप्त हो गई। सभी शिक्षकों कर्मचारियों ने उनके आवास पर जाकर उनका अंतिम दर्शन किया। महाराजा इण्टर कालेज अयोध्या के प्रधानाचार्य डा0 रामकृष्ण मिश्र,पूर्व प्रधानाचार्य शेषनारायण मिश्र,राधेश्याम पाण्डेय कार्यालय प्रभारी कमला प्रसाद मिश्र, प्रवक्ता वेदनाथ मिश्र,देवेन्द्रनाथ तिवारी सम्पूर्णानंद बाजपेई “बागी“, राजेंद्र कुमार पाण्डेय, इंद्रपाल चतुर्वेदी,कमलापति तिवारी, चन्द्रेश्वर पाण्डेय, ज्ञानेश्वर शुक्ला,आर0डी0सिंह, अजय सिंह, रामजी पाण्डेय, अनिल कुमार पाण्डेय, देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, परमात्मा प्रसाद पाण्डेय सहित अन्य लोगों ने गहरा दुःख व्यक्त करते हुए उनके प्रति विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की तथा ईश्वर से प्रार्थना की है। शिक्षक अधिवक्ता व अन्य बुद्धिजीवी वर्ग के लोगों द्वारा बलरामपुर हाउस स्थित उनके आवास तत्पश्चात जमथरा स्थित शमशान घाट पर पहुंचकर विनम्र भावभीनी श्रद्धांजलि व पुष्पांजलि अर्पित की गई, मुखाग्रि उनके पुत्र अधिवक्ता सौरभ मिश्रा द्वारा दी गई,श्रद्धांजलि अर्पित करने वाले प्रमुख लोगों में बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष बब्बन चौबे, शिव गणेश सिंह अधिवक्ता उच्च न्यायालय, अधिवक्ता मनीष कुमार पांडेय, अधिवक्ता राजीव कुमार शुक्ला, अधिवक्ता अरविंद कौल, अधिवक्ता अशोक पांडेय, राजीव कुमार पांडेय, जितेंद्र श्रीवास्तव सुधीर शर्मा, हिमांशु त्रिपाठी, उपेंद्र कुमार मिश्रा, अधिवक्ता सुनील त्रिपाठी, विधायक अभय सिंह, शंभू नाथ सिंह दीपू, अरविंद सिंह, पवन मिश्रा, नवीन मिश्रा, व्यापारी नेता सुशील जायसवाल आदि उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.