सहकारी बैंक सभागार में हुआ विदाई व सम्मान समारोह

कर्मचारी संगठन के चुने गये पदाधिकारी

अयोध्या। जिला सहकारी बैंक लि0 सभागार में बैंक के वरिष्ठ कर्मी सन्नू लाल की विदाई समारोह सम्पन्न हुआ। इसी समारोह में उत्तराखण्ड सरकार से पुरस्कृत ज्योतिष के प्रच्युत विद्वान सुशील कुमार सिंह को भी बैंक सभापति धर्मेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘टिल्लू’’ द्वारा साल भेंट कर सम्मानित किया गया।
इसी क्रम में फैजाबाद व अम्बेडकरनगर के कर्मचारी संगठन का चुनाव प्रदेश महामंत्री महेश प्रताप सिंह के देख-रेख में सम्पन्न हुआ चुनाव में महेश प्रताप सिंह प्रदेश महामंत्री मुख्य अतिथि थे और कार्यक्रम की अध्यक्षता बैंक के अध्यक्ष धमेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘ टिल्लू’’ ने किया। विशिष्ट अतिथि दिवाकर सिंह सचिव/मुख्य कार्यपालक अधिकारी उपस्थित रहे।
प्रदेश महामंत्री द्वारा संगठन की पूर्व कमेटी भंग कर नये कमेटी का चुनाव करवाते हुए बैंक कर्मचारी जनपद फैजाबाद एवं अम्बेडकरनगर हेतु अध्यक्ष पद के लिए सर्वसम्मति से सुधीर कुमार सिंह का नाम पेश किया गया । जिसमें सुधीर कुमार सिंह को निर्विरोध जिला सहकारी बैंक लि0, फैजाबाद और अम्बेडकरनगर के बैंक कर्मचारियों का अध्यक्ष निर्वाचित किया गया।
सुधीर कुमार सिंह वर्तमान में संगठन के प्रदेश कार्य समिति में पदाधिकारी है तथा विगत कई वर्षो से संगठन के जिला उपाध्यक्ष थे बैंक में मुख्य शाखा के शाखा में शाखा प्रबन्धक भी रहे है। मंत्री पद पर सर्वजीत सिंह को निर्विरोध चुना गया। संगठन के पदाधिकारियों में अध्यक्ष सुधीर कुमार सिंह, मंत्री- सर्वजीत सिंह, उपाध्यक्ष आर0 के0सिंह, श्री दिनेश सिंह, कोषाध्यक्ष- आलोक पाठक, उपमंत्री- अरविन्द कुमार शाखा मसौधा, सहायक मंत्री- राम मिलन यादव, नन्हे लाल, संगठन मंत्री- राजाराम, सदस्य कार्यकारिणी- आर0एन0दीक्षित, अरविन्द चैरसिया, संदीप कुमार वर्मा,राज कुमार गुप्ता, हरिद्वार, आनन्द कुमार, प्रेमचन्द, जितेन्द्र प्रताप सिंह, रितेश रंजन, ईश्वरचन्द वर्मा, सुजीत मिश्रा, शिवचरा पाठक, सत्यवीर वर्मा, प्रान्तीय प्रतिनिधि- सुधीर कुमार सिंह, श्री सर्वजीत सिंह, आर0के0सिंह, दिनेश सिंह, जितेन्द्र प्रताप सिंह, संरक्षक- सन्नू लाल है।

इसे भी पढ़े  दुनियां का सबसे बड़ा लिखित भारतीय संविधान : प्रो. रविशंकर सिंह

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More