भाजपा की दम्भी हिन्दुत्ववादी सरकार को हटा अब बनाये हिन्दुओं की सरकार: डा. तोगड़िया

     कहा भाजपा सरकार के बड़े नेता जुमलेबाज, जो राम का नही वो किसी का नहीं

     राम पर जो करेगा जुमेलाबाजी उसकी 71 पीढ़ियां होगीं नरकगामी

     एएचपी ने जारी किया श्रीराम जन्मस्थान मंदिर विधेयक

    Advertisement

    फैजाबाद। भाजपा की दम्भी हिन्दुत्ववादी सरकार को हटाकर अबकी बार हिन्दुओं की सरकार बनायी जाएगी। जमुलेबाज भाजपा नेता जो राम के नहीं हुए वह किसी और के कैसे होगें करोडों हिन्दुओं के आराध्य श्रीराम पर जो जुमलेबाजी करेगा उसकी 71 पीढ़िया नरकगामी होगीं । यह विचार शाने अवध सभागार में फायरब्रांड हिन्दु नेता व अंतराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अंतराष्ट्रीय अध्यक्ष डा. प्रवीण भाई तोगड़िया ने पत्रकार वार्ता में व्यक्त किया ।
    उन्होंने कहा कि सोमवार को एएचपी व आनुसगिंक संगठनों की घोषणा करने के बाद अयोध्या रामलला का दर्शन व संतो का आर्शीवाद लेने आये हैं । उन्होनें कहा एएचपी ने श्रीराम जन्मस्थान मंदिर विधेयक 2018 का मसौदा जारी कर दिया है और केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा सरकार को चेतावानी दिया है कि संसद में विधेयक पारित कर अयोध्या में राम मंदिर, मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मस्थान और काशी में विश्वनाथ मंदिर का निर्माण शुरू कराये अन्यथा एएचपी हिन्दुओं को संगठित कर भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकेगी । पूरे देश में हस्ताक्षर अभियान चला जनमत एकत्र किया जाएगा और अक्टूबर नबम्बर में नयी हिन्दूवादी पार्टी की घोषणा कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राममंदिर आन्दोलन के नाम पर हिन्दू लहर पैदा कर भाजपा केन्द्र में सत्ता में आयी और 2014 में पूर्ण बहुमत की सरकार बना नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाया । जब सरकार नही थी तो भाजपा के बड़े नेता कहा करते थे कि संसद में कानून बनकर राममंदिर बनवायेगें । कारसेवा के नाम पर हिन्दू को मरवाया, ढांचे कांे ढहवाया और हिन्दूओं के जनसमर्थन से भाजपा सरकारें बनी । उस समय भी मंदिर मुहा कोर्ट में चल रहा था अब जब कंेन्द्र मे पूर्ण बहुमत की सरकार है तो प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी कहा रहे है कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद ही राममंदिर निर्माण का रास्ता बन पायेगा । उन्होनें कहा संसद में कानून न बनाने वाली सरकार हटेगी । प्रधानमंत्री मोदी दुनिया का भ्रमण कर रहे है और जिस देश में जाते है वहां मस्जिद दर्शन अवश्य करते है। प्रधानमंत्री बने चार साल हो गया परन्तु मोदी रामलला का दर्शन करने के लिए अयोध्या एक बार भी नहीं आयें । उन्होंने कहा कि हिन्दू समाज के बल पर ही भाजपा व कांग्रेस की सरकारें ए और बी के रूप में सरकारें बनती रही है। यदि भाजपा सरकार विश्वास घात करेगी तो हिन्दू विकल्प खड़ा करेगा। कल जो राम का भजन गाता था वह आज मोहम्मद के गीत गा रहे है। मुस्लिमों की पैरवी की जा रही हैं । विश्व हिन्दू परिषद में जब था तो मेरा हाथ पैर जंजीर से बंधा था और जबान पर ताला जड़ा था अब जंजीर और ताला दोंनो खुल गया है। एक सवाल के जवाब में उन्होनें कहा अयोध्या के संत हमारे साथ उनके दि लमे भी बड़ा दर्द है। मैं संतो ंके पीछे चलूंगा मोदी अरबों से बने कार्यालय में रहे और रामलला झोपड़पट्टी में रहते है यह हमंे सहन नही है। यह रामलला के गौरव का संघर्ष है। पत्रकार वार्ता में परिषद के वरिष्ठ नेता देवेश उपाध्याय, आशीष अवस्थी, मनोज सिंह , जितेन्द्र आचार्य व संयोजक मण्डल के सदस्य अरविन्द कुमार मिश्र भी मौजूद रहे।