The news is by your side.

चौदहकोसी व पंचकोसी परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण का डीएम ने लिया जायजा

-भूमि अर्जन, पुनर्वासन व ध्वस्तीकरण संबंधी कार्यों के प्रगति ली जानकारी

अयोध्या। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने चौदह कोसी परिक्रमा मार्ग (कुल लंबाई 23.943 किमी.) एवं पंचकोसी परिक्रमा मार्ग (कुल लंबाई किमी.) के चार लेन में चौड़ीकरण विस्तारीकरण हेतु विभिन्न क्षेत्रों यथा गुप्तार घाट से राजघाट स्थलीय निरीक्षण किया तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने गुप्तार घाट से राजघाट तक 14 कोसी परिक्रमा मार्ग के किनारे लगे अधिक से अधिक पेड़ों को बचाकर परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण को कराए जाने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Advertisements

उन्होंने कहा कि गुप्तार घाट से जमथरा की तरफ जहां पर मार्ग के किनारे भूमि उपलब्ध है वहां पर मार्ग के किनारे बंधे के साइड में लगे पेड़ों को मार्ग के मीडियन करते हुए एक तरफ ही मार्ग का चौड़ीकरण किया जाए जिससे वहां पर लगे हजारों पेड़ों से अधिक को कटने से बचाया जा सकेगा। इस अवसर पर जिला अधिकारी बताया ने बताया कि गुप्तार घाट पर नवनिर्मित बंधे(सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस) से लेकर राजघाट की तरफ जहां तक बंधे के किनारे किनारे भूमि उपलब्ध है वहां तक फोरलेन मार्ग का निर्माण बंधे के किनारे किया जाएगा जिससे परिक्रमा के उपरांत अन्य समय में भी पर्यटकों द्वारा इसका और बेहतर उपयोग हो सकेगा। इसके संबंध में जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने 14 कोसी परिक्रमा मार्ग तथा गुप्तार घाट से राजघाट तक बंधे के किनारे फोरलेन मार्ग के निर्माण में शहर की तरफ के वर्षा जल के निकासी की भी समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया।

इसे भी पढ़े  प्रधान संघ के जिला महासचिव व कई ग्राम प्रधानों ने ग्रहण की भाजपा की सदस्यता

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने 14 कोसी परिक्रमा मार्ग तथा पंचकोसी परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण के हेतु भूमि अर्जन, पुनर्वासन एवं ध्वस्तीकरण संबंधी कार्यों की प्रगति भी जानकारी ली। इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि पंचकोसी परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण के जद में आने वाले भू स्वामियों से समन्वय स्थापित कर भूमि अर्जन तथा दुकानदारों के पुनर्वासन हेतु तीव्र गति से कार्य किया जा रहा है। इसे दो चैनलों में विभाजित किया गया है प्रत्येक चैनल में राजस्व विभाग एवं लोक निर्माण विभाग के लेखपाल व अवर अभियंता की संयुक्त रूप से तीन -तीन टीमें (कुल 06 टीमें) लगाई गई हैं तथा अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को प्रभारी शिकायत निवारण अधिकारी नामित किया गया है।

उन्होंने बताया कि पंचकोसी परिक्रमा मार्ग में अब तक 160 रजिस्ट्री के सापेक्ष काश्तकारों से समन्वय स्थापित कर 96 रजिस्ट्री का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। तथा 470 दुकानदारों के सापेक्ष 416 दुकानदारों से सहमत प्राप्त कर ली गई है। इसी प्रकार 14 कोसी परिक्रमा मार्ग को कुल 13 चैनजों में विभाजित किया गया है प्रत्येक चैनल में लेखपाल एवं अवर अभियंता की 11 टीम लगाई गई है जिनके द्वारा भू स्वामियों/ भवन स्वामियों/ दुकानदारों से समन्वय स्थापित कर भूमि अर्जन एवं पुनर्वासन का कार्य किया जा रहा है इस मार्ग में विशाल कुमार ज्वाइंट मजिस्ट्रेट व इंद्र भूषण यादव नायब तहसीलदार, राम कुमार शुक्ला एआरओ व विनय बरनवाल नायब तहसीलदार तथा अनुराग प्रसाद डिप्टी कलेक्टर को प्रभारी प्रशासनिक अधिकारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है जिनके द्वारा अपने अपने चरणों से संबंधित टीमों से समन्वय स्थापित कर कार्य को गति प्रदान की जा रही है इसी के साथ है 14 कोसी परिक्रमा मार्ग में अमित सिंह अपर जिलाधिकारी प्रशासन को शिकायत निवारण अधिकारी का दायित्व सौपा गया है।

इसे भी पढ़े  रामनवमी पर रात्रि 11 बजे तक हो सकेंगे रामलला के दर्शन : चम्पत राय

जिलाधिकारी ने बताया कि 14 कोसी परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण की जद में आने वाले काश्तकारों से समन्वय स्थापित कर अब तक 1035 बनाने के सापेक्ष कुल 692 बनाने का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने 14 कोसी एवं पंचकोसी परिक्रमा मार्ग में लगी समस्त टीमों को अपने अपने चैनज में काश्तकारों से बैनामे व मुआवजा प्रदान करने के उपरांत धवस्तीकरण की कार्यवाही में भी तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने शेष काश्तकारों से भी समन्वय स्थापित कर शीघ्र ही समस्त बेनाम का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड, एआरओ सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.