The news is by your side.

जनपद के 40135 श्रमिको के खाते में मिली आपदा राहत

-मुख्यमंत्री ने आपदा राहत सहायता योजना के तहत ट्रांसफर किया धन

अयोध्या। कोरोना महामारी के चलते लॉक डाउन में गरीबों, मजदूरों, ठेला, खोमचे व पटरी दुकानदारों की आर्थिक हालत खराब कर दी। जिनकी मदद योगी सरकार ने आपदा राहत सहायता योजना के तहत की है।

Advertisements

बुधवार को सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से निर्माण श्रमिकों को सम्बोधित किया। कोविड-19 के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित आपदा राहत सहायता योजना के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश के 23 लाख श्रमिकों के साथ-साथ अयोध्या जनपद के 40135 श्रमिको, बाराबंकी के 22483, सुलतानपुर के 27367, अम्बेडकरनगर के 19362 एवं जनपद अमेठी के 17437 पंजीकृत प्रत्येक श्रमिक को 1000 रुपये की आपदा राशि का आनलाइन हस्तांतरण किया।

इस अवसर पर जनपद अयोध्या स्थित एनआईसी में मौजूद सदर विधायक वेद प्रकाश गुप्ता ने डीएम अनुज कुमार झा, सीडीओ अनिता यादव, सहायक श्रमायुक्त आनन्द कुमार सिंह, रोहित प्रताप, शिशिर कुमार श्रीवास्तव आदि अधिकारियों की मौजूदगी में 05 लाभार्थियों रातरानी, महेश कुमार, जगन्नाथ, पवन कुमार एवं राजेश कुमार को एक-एक हजार रुपये के स्वीकृत प्रमाण पत्रों का वितरण किया गया। इसी प्रकार क्षेत्रान्तर्गत अन्य जनपदों में भी स्वीकृत प्रमाण पत्रों का वितरण उक्त लोगों की उपस्थिति में कराया गया।

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री द्वारा उत्तर प्रदेश राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के पंजीकरण को www.upssb.in पोर्टल का भी शुभारम्भ किया गया। जिसके अन्तर्गत मोची, नाई, रिक्शा चालक, ठेला चालक, माली, खोमचा इत्यादि श्रमिक भी जनसेवा केंद्र (C.S.C.) के माध्यम से आनलाइन पंजीकृत हो कर संचालित योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है।

Advertisements

Comments are closed.