अपमान से आहत धर्म सेना ने ज्ञापन को सरयू नदी में किया प्रवाहित

    कहा भव्य राम मन्दिर निर्माण के लिए किसी भी हद तक जाना मंजूर

    Advertisement

    अयोध्या-फैजाबाद। बुधवार को मण्डलायुक्त मनोज मिश्रा द्वारा ज्ञापन लिये जाने से इन्कार करने पर धर्म सेना के संयोजन में जुटे हिन्दू वादी संगठनों सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं सन्त महन्थ धर्माचार्यो ने आज सरयू नदी के तट पर पहुँच कर ज्ञापन को सरयू नदी में प्रवाहित कर दिया और सरयू जल हाथ में लेकर भव्य राम मन्दिर निर्माण का संकल्प लिया इस अवसर पर धर्म सेना के संस्थापक व बाबरी विध्वंस के आरोपी संतोष दूबे ने कहा कि सरकार अगर दो माह के अन्दर मन्दिर निर्माण पर विधेयक नहीं लाती है तो जिन हाथों ने सरकार को बनाया है वहीं हाथ मन्दिर का निर्माण करेगें। साकेत महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य डाॅ0 एच0बी0 सिंह ने कहा कि भाजपा अपने वादे से मुकर रहीं है भव्य राम मन्दिर निर्माण के हम हर स्तर से चाहे वह राजनैतिक हो अथवा सामाजिक विरोध व मन्दिर निर्माण के लिए संघर्ष करते रहेगें। हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अधिवक्ता मनीष पाण्डेय ने कहा कि मण्डलायुक्त द्वारा जिस तरह ए0सी0 रूम में बैठकर चिलचिलाती धूप में तपते राम भक्तों का घोर अपमान किया वह बेहद दुर्भाग्य पूर्ण व शर्मनाक है राम के नाम पर बलिदान हुए कारसेवकों की आत्माओं व उनके पीड़ित परिवारों का श्राप राम द्रोहियों का नाश करके रहेगा महन्थ ओम प्रकाश दास वैद्य जी ने कहा कि भाजपा व विहिप ने कुछ तथा कथित तोतेनुमा सन्तो को पाल रखा है जो यदा कदा यहाँ वहाँ अनावश्यक रूप से बोलकर भव्य राम मन्दिर निर्माण के होने में बाधा खड़ी करते रहे है कार्यक्रम में प्रमुख रूप से कृपा निधान तिवारी, संरक्षक चाणक्य परिषद, कथा वाचक पवन दास शास्त्री, अयोध्या धाम समिति के संयोजक संजय महेन्द्रा, एडवोकेट कमलेश सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता वेद राजपाल , विनीता पाण्डेय , श्री नारायण झा वैदिक , महन्थ कालीचरण गिरि , विजय तिवारी, राज नारायण आर्य , बृजेश दूबे, हनुमान पाण्डेय, प्रमोद तिवारी , आचार्य राम देव दास शास्त्री, ननकऊ दास , पवन पाण्डेय , गोविन्द तिवारी , भंैरो सिंह, संजय सिंह , संजय मिश्रा , लक्ष्मी नारायण तिवारी , डाॅ0 रमेश भारद्वाज सहित सैकड़ो की संख्या में राम भक्त उपस्थित रहे।