कांग्रेसियों ने अमर शहीदों को किया नमन

Advertisement

फैजाबाद। अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की 76वीं वर्षगांठ पर कांग्रेस जनों ने अ.भा. कांग्रेस के सदस्य राजेंद्र प्रताप सिंह की अगुवाई में शहीद उद्यान कचेहरी व सिविल लाइन गांधी उद्यान पहुंच कर अमर शहीद अशफाक उल्ला,शहीद राजेंद्र नाथ लाहिड़ी,शहीद रोशन सिंह,शहीद रामप्रसाद बिस्मिल तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व शहीद स्तंभ पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तत्पश्चात कमला नेहरू भवन में अगस्त क्रांति पर गोष्ठी का आयोजन किया।जिसकी अध्यक्षता प्रदेश सचिव सुनील पाठक व संचालन पीसीसी सदस्य वक्ता मोहम्मद शरीफ ने किया। गोष्ठी को संबोधित करते हुए अ.भा. कांग्रेस के सदस्यध्प्रदेश सचिव राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा 1942 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने 8 अगस्त 1942 की शाम को बम्बई में अखिल भारतीय काँगेस कमेटी के बम्बई सत्र में पूर्ण आजादी की मांग को लेकर अंग्रेजों भारत छोड़ो का आगाज किया गया था। ऐसे में अगस्त क्रांति के महानायकों को याद कर उन्हें नमन करके हम सबको गर्व की अनुभूति हो रही है कांग्रेस श्रम प्रकोष्ठ के सह संयोजक एसपी चैबे,अ.भा.कांग्रेस के सदस्य उग्रसेन मिश्रा, जिला उपाध्यक्ष शीतला पाठक,अल्पसंख्यक विभाग के शहर अध्यक्ष मंसूर खान,महामंत्री हरजीत सलूजा,युवक कांग्रेस अध्यक्ष करन त्रिपाठी,व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अंकित जैन,पिछड़ा वर्ग विभाग अध्यक्ष मंशा राम यादव ने अगस्त क्रांति आंदोलन पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए अमर शहीदों के त्याग बलिदान से प्रेरणा लेकर देश और समाज के लिए कार्य करने का संकल्प लेने की सभी से अपील की। प्रदेश सचिव सुनील पाठक ने कहा महात्मा गांधी ने 9 अगस्त 1942 को जब अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा दिया था उससे पूरे देश में स्वतंत्रता का एक माहौल उत्पन्न हो गया था और आज सत्ता में बैठी भाजपा सरकार के लोग उस समय स्वतंत्रता की लड़ाई में भागीदारी न करके हिंदू-मुस्लिम सांप्रदायिकता फैला रहे हैं आज उनके मुंह से अगस्त क्रांति की बात अच्छी नहीं लगती। इस अवसर पर पीसीसी सदस्य बृजेश सिंह चैहान,धर्मेंद्र सिंह फास्टर,अब्दुल हकीम,सुरेश कुमार रावत,अवधेश तिवारी,चंचल सोनकर,पंकज विश्वकर्मा, अवि पांडेय एडवोकेट,पवन कुमार अकेला एडवोकेट,अमन श्रीवास्तव एडवोकेट आदि लोग मौजूद रहे।