The news is by your side.

मणिपुर की घटना के विरोध में कांग्रेसियों ने किया उपवास

-मणिपुर सरकार को बर्खास्त करने की उठाई मांग

अयोध्या। मणिपुर में महिला के साथ घटित अमानवीय घटना के विरोध में कांग्रेस जनों ने कांग्रेस कार्यालय कमला नेहरू भवन पर उपवास रख अपना विरोध दर्ज कराया। उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा केंद्र और मणिपुर प्रदेश में भाजपा की सरकार होने के बावजूद पूरा मणिपुर बीते काफी समय से हिंसा ग्रस्त है। भाजपा सरकार के ढुलमुल रवैए के कारण पूरा मणिपुर आज हिंसा की चपेट में है। अखिलेश यादव ने कहा महिला के साथ घटित अमानवीय घटना के 3 माह बीत जाने के बावजूद किसी भी जिम्मेदार व्यक्ति पर कार्यवाही न करना तथा बयान न देना यह साबित करता है की भाजपा सरकार का आम आदमी के दुख दर्द से कोई वास्ता नहीं रह गया है। मणिपुर में जब से भाजपा की सरकार बनी है कानून व्यवस्था वहां की तार-तार हो गई है।

Advertisements

जिला अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तत्काल प्रभाव से मणिपुर सरकार को बर्खास्त करने की मांग की तथा महिला को समुचित न्याय प्रदान करने की भी मांग की। महानगर अध्यक्ष वेद सिंह तथा कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहां मणिपुर की घटना ने पूरी मानवता को शर्मसार किया है ऐसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो कठोर से कठोर कार्रवाई अपराधियों पर दोषियों पर करनी चाहिए।

जिला प्रवक्ता सुनील कृष्ण गौतम ने कहा बेटी बचाओ और बेटी बढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के शासनकाल में लगातार महिलाओं पर अत्याचार हो रहा है। केंद्र में बैठी सरकार जुमलेबाजी की सरकार है । पूर्व जिला अध्यक्ष रामदास वर्मा तथा जिला उपाध्यक्ष अनिल सिंह ने कहा मणिपुर में जिस तरह से मानवता को तार-तार कर देने वाली घटना हुई है उसने भारतवर्ष को शर्मशार कर दिया है। इस अवसर पर प्रमुख रूप से पीसीसी सदस्य उग्रसेन मिश्रा, पूर्व विधायक श्री माधव प्रसाद, महिला जिला अध्यक्ष रेनू राय , राम सागर रावत ,प्रमिला राजपूत, अशोक कनौजिया , कर्म राज यादव ,अब्दुल हकीम, राहुल मौर्य, रामेंद्र त्रिपाठी ,इंद्रौहन यादव ,राम अवध पासी ,उमेश उपाध्याय, आरिफ, प्रेम पांडे ,कमलेश यादव ,ईश्वरदास जयसवाल, फैजान, राजदेव वर्मा, गुड्डू, राम सूरत सोनी, विजय पान्डेय ,भीम शुक्ला,प्रेम चंद ,राजकुमार मौर्या आदि उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़े  लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 : मतदान कार्मिकों का हुआ प्रथम प्रशिक्षण

 

Advertisements

Comments are closed.