The news is by your side.

मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने भरतकुंड व भरत गुफा का किया निरीक्षण

-उ.प्र. परियोजना निगमद्वारा कराये गये कार्य का किया गया निरीक्षण


अयोध्या। उ. प्र. परियोजना निगम द्वारा भरत कुंड स्थल पर कराए जा रहे कार्यों का बुधवार को श्री अयोध्याजी तीर्थ विकास परिषद के मुख्य कार्यपालक अधिकारी संतोष कुमार शर्मा व संयुक्त मुख्य कार्यपालक अधिकारी धीरज श्रीवास्तव ने भरत गुफा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उत्तर प्रदेश परियोजना निगम के परियोजना प्रबंधक ने विनय कुमार जैन ने बताया कि चौरासी कोसी परिक्रमा के अंतर्गत 8 दुग्धेश्वर कुंड, दशरथ समाधि, भरत कुंड आदि के कार्यों की स्वीकृति शासन द्वारा 20.56 करोड़ रूपये की हुई थी, स्वीकृत कार्यों में से छह कार्य पूर्ण किए जा चुके हैं, शेष दो कार्य करना बाकी है।

Advertisements

इस दौरान कार्यदायी संस्था यूपीपीसीएल द्वारा भरत कुंड पर एक शौचालय, अतिथि विश्राम गृह तथा सीढ़ियों का निर्माण कराया गया है, शेष परियोजना का कार्य प्रगति पर है। बताया गया कि भरत कुंड पर एक शेड तथा कार्य शेष हैं, इस अवशेष कार्यों को दो माह में पूर्ण कर लिया जाएगा। इसके अलावा भरत कुंड और भरत गुफा पर यात्री सुविधा के दृष्टिगत पार्किंग,सौन्दर्य विकास, प्रकाश और ध्वनि प्रणाली, वाटर पिकिंग कुंड के चारों तरफ घाट के निर्माण, कुंड के बीच में राम भरत मिलन के मूर्ति स्थापित करने और तालाब के पानी को साफ करने पर विचार विमर्श किया गया।

परियोजना प्रबंधक को अवशेष कार्य दो माह में पूर्ण करने एवं इसके अतिरिक्त यात्रियों की सुविधा के दृष्टिगत क्या कार्य कराए जा सकते हैं और उन पर भी विचारोपरान्त कार्य का नाम और उनमें होने वाली अनुमानित लागत बताएं जाने और अवशेष कार्य जून माह तक पूर्ण करने के निर्देश दिए गए।निरीक्षण के समय उप्रपरियोजना निगम के परियोजना प्रबंधक विनय कुमार जैन, सहायक परियोजना प्रबंधक राजेश कुमार सिंह, अवर अभियंता एपीसिंह व अन्य कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़े  कार्ययोजना बना कर महानगर को जलभराव से मुक्त करने पर हो रहा है मंथन : गिरीश पति त्रिपाठी

 

Advertisements

Comments are closed.