The news is by your side.

शव वाहन के लिए किया फोन, तो बंद हो गया मोबाइल

-सीएमएस से की गयी शिकायत

अयोध्या। जिला अस्पताल में व्यवस्थाओं को सुधारने की कवायद परवान नहीं चढ़ पा रही है। चंद दिनों पूर्व अस्पताल प्रशासन की ओर से शव वाहन की उपलब्धता के लिए इमरजेंसी समेत अन्य जगहों पर चाक का मोबाइल नंबर समेत पंपलेट चपकवाया गया था, लेकिन सोमवार को एक शख्स ने शव वाहन के लिए फोन किया तो वाहन के चालक ने मोबाइल ही बंद कर लिया। मामले की शिकायत जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक से की गई है। शिकायत को लेकर प्रमुख अधीक्षक ने मुख्य चिकित्साधिकारी को पत्र भेज संबंधित चालक को हटाने की मांग की है।

Advertisements

बताया गया कि रविवार की रात नगर कोतवाली क्षेत्र के पूरे हुसैन खां निवासी लाल माधव पुत्र स्व.ठाकुर प्रसाद को सांस लेने में दिक्क्त के बाद उनका साला पूराकलंदर थाना क्षेत्र के गाँव अंजना निवासी विजय प्रकाश पांडेय जिला अस्पताल लाया था। इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने उनको इमरजेंसी के बेड नंब आठ पर भर्ती किया था। उपचार के दौरान सोमवार को दोपहर बाद 12.50 बजे लाल माधव की मौत हो गई। जिसके बाद उनके साले ने शव को घर तक पहुंचाने के लिए सरकारी शव वाहन के चालक दुर्गेश के मोबाइल पर फोन किया।

उनका कहना है कि शव वाहन को लेकर आने के बजाय चालक ने अपना मोबाइल ही बंद कर लिया। मामले की लिखित शिकायत जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक को दी गई है। जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ.सीबीएन त्रिपाठी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद उन्होंने चालक को फोन किया तो भी उसका मोबाइल बंद मिला। सीएमओ को पत्र भेज संबंधित चालक को ड्यूटी से हटाने का अनुरोध किया गया है।

Advertisements

Comments are closed.