The news is by your side.

ब्रितानी हुकूमत के आंख की किरकिरी थे बिगुलर

स्वतंत्रता सेनानी महाबीर प्रसाद बिगुलर को अर्पित गयी गयी श्रद्धांजलि

अयोध्या। जनपद में असंख्य सेनानियों ने देश की आजादी के लिए लड़ाईयाँ लड़ीं, उन्हीं सेनानियों ने प्रख्यात सेनानी महाबीर प्रसाद गुप्ता ’बिगुलर’ ने अंग्रेजों के जंग छेड़ रखी थी जिसके कारण उन्हें कई बार जेल की कालकोठरी में डाला गया। ऐसे आजादी के योद्धाओं के बारे में हमारी आने वाली पीढ़ी को वर्तमान में कुछ भी मालूम नहीं है, जिसके लिए इन सेनानियों की गाथाओं को पाठ्यक्रम में सम्मिलित करते हुए उसे भावी पीढ़ी के समक्ष रखना आवश्यक है। उक्त उद्गार व्यक्त करते हुये स्थानीय कचेहरी स्थिति सेनानी भवन में सेनानी बिगुलर को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये, अधिवक्ता संघ जनपद-अयोध्या के अध्यक्ष अरविन्द सिंह ने आगे कहा कि आज के नौजवानों को सेनानी बिगुलर से प्रेरणा लेनी चाहिए। वहीं श्रद्धांजलि समारोह को सम्बोधित करते हुये केन्द्रीय दुर्गापूजा एवं रामलीला समन्वय समिति के अध्यक्ष मनोज जायसवाल ने कहा कि शहीदों व सेनानियों के बलिदान व उनके त्याग के रूप में जो हम सब पर उनका जो ऋण है वह देश कभी चुका नहीं सकता, सेनानी बिगुलर ने अपने जीवन का सर्वस्य न्यौछावर कर रखा था आजादी की लड़ाई में। समारोह को सम्बोधित करते हुये अधिवक्ता संघ जनपद-अयोध्या के पूर्व अध्यक्ष अशोक सिंह ने कहा कि श्रद्धेय बिगुलर जी ने अपने बिगुल को बजाकर आम जनभावनाओं में जागृति पैदा करते हुए जनपद-अयोध्या के स्वतन्त्रता आन्दोलन को एक नई दिशा व एक नई पहचान दी थी। समारोह का कुशल संचालन करते हुए स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिषद के सचिव मनोज मेहरोत्रा ने कहा कि आज आवश्यक्ता है कि जनपद के आजादी के इन दिवानों का एक संकलित इतिहास समाज के सामने रखा जाय जिससे आने वाली पीढ़ी इनके बारे में विस्तार से जान सके। युवा अधिवक्ता गिरीश तिवारी ने कहा कि आज आवश्कता है कि हम अपने आने वाली पीढ़ी के सामने आजादी के इन सिपाहियों की गौरव गाथा प्रस्तुत करें। वहीं समारोह को सम्बोधित करते हुए सेनानी के ज्येष्ठ पौत्र व भाजपा नेता केशव बिगुलर ने कहा कि दादा जी द्वारा दिखाये गये मार्ग का अनुसरण करते हुए हम सभी सेनानी परिवारों व परिजनों के लिए संघर्षरत हैं, वे सदैव विषम परिस्थित में भी हम सब का हौसला बढ़ाते रहे। जिस कारण हम और हमारे साथी सेनानी वंशजगण सदैव शहीदों व पूर्वजो के बताये मार्ग पर चलकर हम सेनानियां और उनके परिजनों के लिए और राष्ट्रहित में कार्य कर रहे हैं। समारोह को वरिष्ठ अधिवक्ता के0के0 सिंह, अधिवक्ता संघ महामंत्री परविन्दर मिश्रा, पूर्व महामंत्रीगण आलोक खरे एवं सूर्य नारायण सिंह ने भी सम्बोधित किया।
श्रद्धांजलि सभा में सेनानी पुत्र सुखदेव बिगुलर, अचल बिहारी गुप्ता, राकेश वैद, सेनानी पौत्र गणेश बिगुलर, व तरुण गुप्ता, सैय्यद साहब आलम, केन्द्रीय समिति के बजरंगी साहू, शहीद स्मारक समिति के ओमप्रकाश नाहर, भाजपा नेता बबलू मिश्रा, ओम प्रकाश गुप्ता, देवेन्द्र अग्रहरि, शिवसेना जिला प्रमुख अभय द्विवेदी, कांग्रेस नेता अश्वनी सिंह “मधुर”, शेषनाथ दूबे, पूर्व विधायक हुबराज, अधिवक्ता गण सुरेन्द्र कुमार सिंह, श्रीराम, कृष्ण मोहन सिंह, लालजी गुप्ता, नवीन मिश्रा, आनन्द श्रीवास्तव, रवीन्द्र गुप्ता, शमसेर बहादुर सिंह, हरिओम दूबे, अजय दूबे, सावेज जाफरी, सहजराम यादव, मनोज कुमार सिंह, राजेश सिंह, प्रभात सिंह, दीपक जायसवाल, दिलीप शर्मा, विपिन श्रीवास्तव, महादेव प्रसाद वर्मा एडवोकेट आदि लोग शामिल रहे।

Advertisements
Advertisements
3 Comments
  1. Nursing Essay Writing

    Nursing Essay Writing

    […]very couple of internet sites that occur to be comprehensive below, from our point of view are undoubtedly nicely really worth checking out[…]

  2. mksorb.com

    mksorb.com

    […]Here is a good Weblog You may Locate Intriguing that we Encourage You[…]

  3. mksorb.com

    mksorb.com

    […]please take a look at the web pages we comply with, such as this a single, as it represents our picks in the web[…]

Comments are closed.