The news is by your side.

श्रद्धा के साथ मनाया गया वीरांगना ऊदा देवी पासी का शौर्य दिवस 

-मेधावी छात्र-छात्राओं को किया गया सम्मानित

मिल्कीपुर। मिल्कीपुर के ग्राम पंचायत मजनाई के पंचायत भवन पर वीरांगना ऊदा देवी पासी का शौर्य दिवस श्रद्धा के साथ मनाया गया।इस मौके पर आयोजित विचार गोष्ठी में दिनेश प्रताप सिंह मुख्य अतिथि तथा आजाद रावत विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए।मुख्य वक्ता शिवकरन पासवान ने वीरांगना उदा देवी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 1857 की क्रांति में अवध क्षेत्र के नवाब वाजिद अली शाह की टोली नायिका वीरांगना ऊदा देवी ने लखनऊ के सिकंदर बाग में पीपल के पेड़ पर चढ़कर अकेले ही 36 अंग्रेजों को मौत के घाट उतारा था।

Advertisements

उनकी शौर्य गाथा को याद करते हुए कार्यक्रम के दर्जनों वक्ताओं ने उन्हें नमन किया। शौर्य दिवस के अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक तथा उम्मीद किरण सेवा संस्थान के अध्यक्ष लालचंद्र चौरसिया ने समाज में उत्कृष्ट कार्य कर रहे लोगों तथा मेधावी छात्रों को संस्थान की तरफ से सम्मानित कराया। सम्मानित होने वालों में मेधावी छात्र गौरव रावत,रागिनी रावत,शिवानी,मुकेश कुमार,गौतम, जितेंद्र कुमार और विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले राहुल रावत,रंजीत रावत,राम प्रकाश,राम धीरज रावत,प्रहलाद रावत,रामसूरत रावत आदि शामिल रहे।कार्यक्रम की अध्यक्षता अरविंद शास्त्री तथा संचालन त्रिलोकीनाथ पासी ने किया।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सीताराम पासी,घनश्याम पासी,रितेश चौरसिया अंगद,रामसूरत चौरसिया,ग्राम प्रधान कैलाश जायसवाल,पूर्व प्रधान पवन यादव,सुशील मिश्रा,सत्य प्रकाश जायसवाल,अरविंद रावत,रमेश रावत,रामतेज प्रियदर्शी,संदीप रावत,सुरेंद्र रावत,आकाश चौधरी,जितेंद्र पासी,सुरजीत चौधरी,महेश पासवान,राममिलन पासी,रामतीरथ रावत,मजनाई गांव में संचालित वीरांगना ऊदा देवी महिला स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष ज्योति बाला,तारा देवी,नीलम,रेनू,श्रीदेवी, ममता,कुसुम,शोभा,सिंगारी देवी,अनारा,शांति देवी, कमल कुमार समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Advertisements

Comments are closed.