मजदूर हित के कानून को बदलना चाहती है भाजपा : सूर्यकांत पाण्डेय

मजदूर हड़ताल को वामदलों ने दिया समर्थन

अयोध्या । मजदूर व कर्मचारी हित के कानून को भाजपा सरकार बदलना चाहती है। भाजपा सरकार की इस मंशा के विरोध में मजदूर, कर्मचारी व मेहनतकश दो दिवसीय हड़ताल 8 व 9 जनवरी को राष्ट्रीय स्तर पर करने जा रहे हैं। मजदूर संगठनों की हड़ताल को वाममोर्चा समर्थन करेगी। यह जानकारी शाने अवध सभागार मे आयोजित पत्रकार वार्ता में भारतीय कम्पयुनिष्ट पार्टी के का. सूर्यकांत पाण्डेय ने दिया।
उन्होने कहा कि मोदी सरकार जो श्रम कानून बदलने जा रही है उससे यूनियन का पंजीयन व हड़ताल कराना असम्भव हो जायेगा। विद्युत अधिनियम 2018 यदि पास हो गया तो देश की जनता को एक ही दर पर बिजली मिलेगी चाहे व अम्बानी हों या किसान मजदूर यही नहीं सरकार सरकारी व सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण करना चाहती है। इसके खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर 19 सूत्रीय मांगो को लेकर आन्दोलन छेड़ दिया गया है। उन्होंने कहा कि 8 व 9 जनवरी को होने वाली आम हड़ताल में पूरे देश के करोड़ो मजदूर और कर्मचारी शामिल होंगे। हड़ताल में बिजली, चीनी, ट्रांसपोर्ट, स्कीम वर्क्स व निकाय कर्मचारी भी हिस्सा लेंगे। पत्रकार वार्ता में सीपीआईएमएल के राम भरोस, सीपीआई के अशोक तिवारी, स्टूडेंट फेडरेशन के देवेश ध्यानी आदि मौजूद रहे।

इसे भी पढ़े  संयम, सजगता की कमी से सुरक्षा प्रणाली में सेंध लगा पाता है एचआईवी : डॉ. उपेन्द्रमणि

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More