The news is by your side.

तपस्वी छावनी के महंत परहमंस की अभद्रता पर भड़के भाकियू कार्यकर्ता

-कोतवाली नगर में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराने की किया मांग


अयोध्या। किसान समस्याओं को लेकर तिकोनिया पार्क( सदर तहसील के सामने) भारतीय किसान यूनियन द्वारा चलाया जा रहा अनिश्चितकालीन धरना पांचवे दिन जारी रहा, तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास द्वारा भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं /धरनाकारियो के साथ की गई अभद्रता, गाली गलौज व किसान नेता चौधरी राकेश टिकैत को राक्षस तथा डकैत कहे जाने की कटु शब्दों में निंदा की गई और प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर को तहरीर देकर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की गई साथ ही पुलिस प्रशासन को चेतावनी दी गई कि यदि अभिलंब प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं की जाती है तो निश्चित रूप से बड़ा आंदोलन छेड़ा जाएगा।

Advertisements

जाहिर है कि 25 सूत्रीय समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन का अनिश्चितकालीन धरना दिनांक 25 मई से तिकोनिया पार्क में चल रहा है 28 मई को समय लगभग 5ः30 बजे तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास द्वारा तिकोनिया पार्क में पहुंचकर धरनाकारियों के साथ गाली गलौज, अभद्रता तथा दलित जितेंद्र कुमार को जातिसूचक शब्दों से गाली व धरना समाप्त कर देना करने की चेतावनी व किसान नेता राकेश टिकैत को डकैत तथा राक्षस कहां गया था जिसके कारण भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता पदाधिकारियों आक्रोशित हुए और प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर को तहरीर देकर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव घनश्याम वर्मा ने कहा कि संत को सादगी,सजन्नता के साथ देश व समाज हित में सोचना चाहिए परंतु परमहंस की कार्यशैली देश व समाज के हित में नहीं है जिनके खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए तथा दिनांक 28 मई को धरना स्थल पर पहुंचकर की गई अभद्रता की प्रथम सूचना रिपोर्ट अलग से दर्ज होना चाहिए। दलित जितेंद्र कुमार ब्लॉक अध्यक्ष मसौधा तहरीर दी गई है।

इसे भी पढ़े  तीन दिवसीय बालिका आत्मरक्षा शिविर का सांसद ने किया समापन

अनिश्चितकालीन धरने के पांचवे दिन मध्यांचल प्रदेश सचिव सूर्यनाथ वर्मा, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष भागीरथी वर्मा, जिला उपाध्यक्ष रंजीत कोरी, देवी प्रसाद वर्मा, पंकज सिंह, रामप्रताप गुप्ता, जितेंद्र कुमार, संतोष वर्मा, प्रेम शंकर वर्मा मोहम्मद अयूब, मस्तराम वर्मा, पारसनाथ वर्मा, देवीदीन सोहावल बुधीराम मोरिया, देवीदीन, उर्मिला निषाद, भभूति निषाद, राजू गौड़, मोनिया बानो, अरुण कुमार, योगेंद्र पटेल आदि दर्जनों लोग बैठे रहे।

Advertisements

Comments are closed.