The news is by your side.

पल्स पोलियो की निकाली गयी जागरूकता रैली

1271 बूथो मे 0-5 वर्ष तक के अनुमानित 459920 घरों के कुल 320451 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य

अयोध्या। राष्ट्रीय सघन पल्स पोलियो अभियान के अंतर्गत जिले में आज पल्स पोलियो अभियान की रैली निकाली । मुख्य विकास अधिकार अभिषेक आनंद एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 हरीओम श्रीवास्तव ने हरी झंडी दिखा कर पुलिस लाइन से पल्स पोलियो जन जागरूकता अभियान रैली को रवाना कर इसका शुभारम्भ किया और बताया कि अभियान 10 मार्च से 18 मार्च चलाया जाएगा।
जनपद के 1271 बूथो मे 0-5 वर्ष तक के अनुमानित 459920 घरों के कुल 320451 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। रैली का नेतृत्व मुख्य चिकित्सा अधिकारी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ,ड़ा॰सी॰वी॰दिवेदी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ0आर0के0 देव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ड़ा॰ अमिता सिंह , फाइलेरिया नियन्त्रण अधिकारी डी0के0श्रीवास्तव,उप जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी वी0पी0सिंह ,डीसीपीएम अमित कुमार द्वारा किया गया। जनपद को पोलियो मुक्त बनाने के लिये नगरीय क्षेत्र के 10 विद्यालयों के लगभग 250 बच्चों के साथ अध्यापक एवं अध्यापिकाओं ने रैली में शामिल होकर जनपद को पोलियो मुक्त जनपद बनाने के लिये अपने नारों से आम जन को जागरूक किया।
मुख्य विकास अधिकारी ने कहा रैली के माध्यम से आम लोगों को जागरूक किया जाए ताकि 10 मार्च से शुरू होने वाले पल्स पोलियो अभियान में अधिक से अधिक बच्चों को पोलियो की ख़ुराक पिलाई जा सके। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ हरिओम श्रीवास्तव ने रैली को सफ़ल बनाने में विभिन्न विभागों के अधिकारी, अध्यापकों एवं बच्चों को धन्यवाद ज्ञापित किया और 10 मार्च से 18 मार्च शुरू होने वाले पल्स पोलियो अभियान में अपने नजदीकी बूथ पर जाकर 0 से 5 वर्ष के बच्चों को पोलियो कि दो बूंद पिलाने की अपील की।
उन्होने स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग के अधिकारियों से इस अभियान को सफ़ल बनाने में आपेक्षित योगदान की अपील की एवं बताया कि समस्त विभागों के सामूहिक प्रयासों से जनपद को पोलियो मुक्त करने में मदद मिलेगी। इस दौरान शिक्षा विभाग से सह-समन्वयक डा0 शशिधर द्विवेदी, डॉ अरविंद पाठक, रामानन्द दास मौर्य, तहसीन बानो, गीता वर्मा, शरद श्रीवास्तव, प्रकाश रावत, सविता शुक्ला, चरण आधार मौर्या आनंद गुप्ता ,रवीद्र विक्रम के साथ अन्य अध्यापक एवं अध्यापिकाएं मौजूद थी।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.