The news is by your side.

असहायों को सर्दी से बचने के लिए अवध विवि की पहल

छात्रों, शिक्षकों व कर्मचारियों ने शुरू किया ठण्ड के कपडे, कम्बल व स्वेटर का संग्रह

Advertisements

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित की प्रेरणा एवं निर्देशन में आई.ईटी. एवं विभिन्न विभागों के छात्रों-छात्राओं, शिक्षकों एवं कर्मचारियों द्वारा वितरण हेतु गरीबों एवं असहायों को सर्दी के मौसम से बचने के लिए ठण्ड के कपडे, कम्बल, स्वेटर आदि संग्रह किया गया। गर्म कपड़ों का वितरण अयोध्या रेलवे स्टेशन, नया घाट एवं वृद्धा आश्रम में पहुॅचाने की योजना समिति के कार्यकर्ताओं द्वारा तैयार की गयी है।
विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति प्रो0 एस0एन0 शुक्ला ने छात्रों को सेवा भाव की भावना से प्रेरित होकर प्रमुखता से असहायों एवं निर्बलों की सेवा के लिए सैदव तत्पर रहने की सीख दी है। प्रो0 शुक्ला ने कहा कि सच्ची सेवा मानव सेवा है। स्वामी विवेकानंद से आज के युवा प्रेरणा ले मानव सेवा को जीवन का उद्देश्य बनाये। इस अवसर पर परीक्षा नियंत्रक उमा नाथ ने कहा कि यह एक सार्थक प्रयास है इसकी प्रशंसा जितनी की जाये वह कम है।
शिक्षक डॉ0 बृजेश भारद्वाज ने असहाय एवं निर्बलों की सेवा परम धर्म बताया। डॉ0 मनीष सिंह इस तरह के प्रयासों पर प्रकाश डाला। इं0 परितोष त्रिपाठी ने इस पूरे कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए विश्वविधालय के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित के प्रेरणा एवं सुक्षाव के लिए आभार व्यक्त किया। कुलपति की प्रेरणा से ही विगत वर्ष में लगभग 5000 के करीब नये एवं पुराने कपडे बांटे गए थे। इं० रमेश मिश्रा ने पूरे कार्यक्रम की रूप रेखा पर विस्तार से बताया इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य लोगों में जागरूक लाना जो ठण्ड में पर्याप्त कपडे का अभाव में मर जाते है जबकि अधिकतर घरों में पुराने कपडे ठण्ड के बेकार पड़े रहते है ऐसे कपड़ो को लोगो द्वारा दान स्वरूप लिया जाना और अधिकतम असहाय लोगो तक पहुंचना ही उद्देश्य है छात्रों द्वारा कुल तीन चरणों में वितरण कार्यक्रम एवं चार चरणों में कपडे इकट्ठा करने की योजना है प्रति कुलपति प्रो0 एस0 एन0 शुक्ल कार्यक्रम के सफलता पूर्वक क्रियान्वयन के लिये शुभकामना देते हुए समिति के कार्यकताओं को रवाना किया।
इस अवसर पर पर डॉ वन्दिता पाण्डेय, डॉ0 प्रियंका श्रीवस्तव, डॉ0 सुधीर, इं० परिमल तिवारी, इं० शाम्भवी शुक्ल, इं० कृति श्रीवास्तव, इं० समृद्धि सिंह इं० श्वेता मिश्रा, इं० आशुतोष मिश्रा डॉ0 हरगोविंद सिंह इं० अंकित, इं० चन्दन, मनोज सिंह, इं० समरेंद्र प्रताप सिंह, नीरज सिंह उमेश सुनील रवि एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.