The news is by your side.

अमेठी : सपा विधायक ने भाजपा प्रत्याशी के पति को थाने में ही पीटा

-अपनी रिवाल्वर से ख़ुदकुशी की दी धमकी, मुकदमा दर्ज

गौरीगंज अमेठी। कोतवाली में बुधवार को सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें विधायक राकेश प्रताप ने बीजेपी के निकाय चुनाव के प्रत्याशी के पति दीपक सिंह की थाने में जमकर पिटाई की। उन्होंने कई थप्पड़ और घूंसे बरसा दिए। उस समय पुलिस प्रशासन भी वहां मौजूद रहा। लेकिन किसी ने विधायक को नहीं रोका। विधायक बीती रात से थाने में ही धरने पर बैठे हुए थे। पूरा मामला गौरीगंज कोतवाली का बताया जा रहा है। मंगलवार को गौरीगंज सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह ने आरोप लगाया था कि उनके मामा के लड़के और एक अन्य व्यक्ति को दीपक सिंह के समर्थकों ने पीटा। जिससे उन्हें गंभीर चोट आई है। पुलिस मुकदमा दर्ज नहीं कर रही है।
उक्त मामले को लेकर मंगलवार को रात 8 बजे से विधायक राकेश सिंह थाने के अंदर धरने पर बैठे थे।

Advertisements

बुधवार सुबह भाजपा प्रत्याशी रश्मि के पति दीपक थाने पहुंचे। गाड़ी से उतरकर वह खड़े ही हुए थे कि तभी धरने पर बैठे सपा विधायक बाहर आए। उन्होंने दीपक को पकड़ा और तुरंत ताबड़तोड़ कई थप्पड़ बरसाए। करीब 20 मिनट की मारपीट के बाद पुलिस दोनों गुटों को छुड़ा सकी। इसके बाद थाने में सपा और भाजपा के सैकड़ों समर्थक पहुंचे गए।इसी बीच ​​​​​​गौरीगंज थाने की पुलिस  दीपक सिंह को थाने के अंदर ले गई। इसके बाद भी कुछ देर तक थाने का माहौल तनावपूर्ण बना रहा। दोनों पक्ष के लोग आमने-सामने दिखे।

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे वीडियो में साफ-साफ दिख रहा है कि सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह अपने समर्थकों के साथ मिलकर दीपक सिंह को पीट रहे हैं। पुलिस ने बीच-बचाव भी किया, लेकिन विधायक राकेश सिंह, दीपक सिंह को पीटने पर अमादा रहे। किसी तरह मामले को शांत कराया गया है। पिटाई का यह वीडियो किसी ने सोशल मीडिया में सार्वजनिक कर दिया है। नगर निकाय चुनाव के मतदान से एक दिन पहले कोतवाली के अंदर सपा विधायक की गुंडई का वीडियो वायरल होने पर लोग तरह-तरह की बातें करते हुए पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर रहे हैं।

इसे भी पढ़े  अयोध्या में पहली बार 4डी मंदिर से “लक्ष्मी-नारायण“ के दर्शन का अवसर

इस मामले में विधायक ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि दीपक सिंह ने मेरे लोगों को पीटा था। चार दिन से गौरीगंज में गुंडागर्दी चल रही थी। रातभर मैं गौरीगंज थाने में बैठा रहा। मेरे भाई, भतीजे पर दीपक सिंह ने हमला किया था। वह अपराधी है और पुलिस का संरक्षण प्राप्त है। अगर पुलिस दीपक पर कार्रवाई करती तो शायद यह घटना नहीं होती। मैं अपने गुस्से को काबू में नहीं कर पाया।

 

भाजपा से नगर पालिका उम्मीदवार रश्मि सिंह ने बताया कि सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह ने थाने के अंदर मेरे पति को पीटा है। उन्होंने पति पर जानलेवा हमला कराया है। विधायक ने जो आरोप लगाये हैं वो उनकी बौखलाहट है, क्योंकि जनता उनके साथ है। अब जब वो हारते हुए नजर आ रहे हैं तो ये सब कर रहे हैं। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से गुहार लगा रही हूं कि मेरे पति को न्याय दिलाया जाए।

इस मामले में पुलिस अधीक्षक डॉ. इलामारन जी ने बताया कि मंगलवार को ही विधायक थाने के पास ही धरने पर बैठे थे। बुधवार को उनके विपक्षीगण वाहन लेकर आये थे। इसमें दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए थे। हाथापाई हो गई थी, कुछ लोग चोटिल हुए हैं। पुलिस ने मामले को शांत कराते हुए चोटिल लोगों का इलाज करा दिया है। हालात सामान्य हैं। जिन लोगों ने गलती की है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने विधायक समेत 12 नामजद तथा एक अन्य अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है।

सवालो के घेरे में गौरीगंज कोतवाली पुलिस

.गौरीगंज अमेठी थाने की पुलिस पर तमाम तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं । सवाल तो यह है आखिर जब सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह के समर्थकों के साथ जब मंगलवार को दीपक सिंह के द्वारा मारपीट की तों उस मामले में पुलिस ने आखिर कार्रवाई क्यों नहीं की किया इसी को लेकर विधायक को थाने पर प्रदर्शन करना पड़ा। थाने के अंदर कालर ऊंची कर रौब से मुस्करा कर मौजूदा विधायक को मां बहन की गाली देकर मारपीट के लिए उकसाने वाले हिस्ट्रीशीटर दीपक सिंह पर मुकदमे की कार्यवाही क्यों नही ?

Advertisements

Comments are closed.