दोबारा शिलान्यास किया जाना लोकतांत्रिक मान्यताओं के खिलाफ: अवधेश प्रसाद

    पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को लेकर सपा ने की आभार सभा

    Advertisement

    फैजाबाद । उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यों पर भाजपा के लोग फीता काटकर अपना काम बता रहे हैं जो संविधान की मान्यताओं के खिलाफ है। शिलान्यासों का दोबारा शिलान्यास किया जाना लोकतांत्रिक मान्यताओं एवं परम्पराओं के खिलाफ है। यह बातें मिल्कीपुर के अदिलपुर स्थित श्री राजदत्त शुक्ल इण्टर कालेज के मैदान में आयोजित आभार सभा के दौरान बतौर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद ने कहीं। उन्होंने कहा कि समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास 22 दिसम्बर, 2016 को तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कर दिया था परन्तु बीते शनिवार 14 जुलाई को उसी शिलान्यास का दोबारा शिलान्यास आजमगढ़ जाकर प्रधानमंत्री मोदी ने कर दिया जो कि संविधान की मान्यताओं व लोकतांत्रिक परम्पराओं के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि राजभवन भाजपा व संघ का कार्यालय हो गया है। भाजपा व संघ के इशारे पर प्रदेश का राज्यपाल काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार ने काम किया और पूरे प्रदेश में सपा सरकार का काम बोल रहा है। सभा में मौजूद विधान परिषद सदस्य लीलावती कुशवाहा ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार पूर्व के कामों पर अपना शिलान्यास करके प्रदेश की भोलीभाली जनता को गुमराह कर रही है। उन्होंने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से समाजवादी शब्द हटाना गलत परम्परा है। सभा को सम्बोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव ने कहा कि समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहले ही कर चुके हैं। भाजपा के लोग सपा के कामों का फीता काट रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे की दूरी कम की गयी है और विज्ञापनों में हेराफेरी की गयी है। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर सर्विस लेन नहीं बनी है। आठ लेन को छः लेन कर दिया गया है और आनन-फानन में एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास कर दिया गया। सभा की अध्यक्षता मिल्कीपुर के विधान सभा अध्यक्ष वेद प्रकाश यादव व संचालन सपा जिला सचिव बख्तियार खान ने किया। सभा को महिला सभा की जिलाध्यक्ष सुनीता श्रीवास्तव, लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र यादव, पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य इन्द्रपाल यादव, मदन यादव, सिराज अहमद, रामजी यादव आदि ने सम्बोधित किया। सभा में बड़ी संख्या में क्षेत्र के लोग मौजूद थे।