प्राचीन गहनाग मन्दिर में लगी आग, मन्दिर का सामान जलकर राख

    Advertisement

     

    मिल्कीपुर-फैजाबाद। थाना खंडासा क्षेत्र के अति प्राचीन प्रसिद्ध नागपीठ गहनाग देवमंदिर बुधवार चार अप्रैल को दोपहर अज्ञात कारणों से लगी आग से जल कर राख हो गया दिन में ग्यारह बजे के लगभग लगी आग के समय मंदिर के
    पुजारी राम बिहारी तिवारी पास के बाजार रामनगर गये थे  ।
    प्रत्यक्ष दर्शीयों के अनुसार कुछ लोग पूजन के बाद दीपक जला कर मंदिर से निकले थे जिसके कुछ देर बाद ही मंदिर से आग की लपटें उठने लगी स्थानीय लोगों ने आग पर काबू पाया और पुजारी को सूचना दी आग में मंदिर की मशीन साउंड सिस्टम घंटा व पूजन साम्रागी समेत अन्य सभी सामान जल गया । बता दें कि मंदिर लखोरी ईटो से निर्मित है उस पर छत नही पड़ी है छप्पर रखा हुआ था।
    सूचना के बाद तहसील के राजस्व अमले ने पहुंच कर छति का आकलन किया स्थानीय पुलिस ब्लाक प्रमुख राम प्रताप यादव , जितेन्द्र शुक्ला समेत क्षेत्र के लोग बडी संख्या में मंदिर पहुंचे। मंदिर के पुजारी रामबिहारी तिवारी ने बताया कि श्रद्धालुओं की सुबिधा को देखते हुए शीध्र ही मंदिर का पुनर्निर्माण कराया जायेगा।

    इसे भी पढ़े  ट्रक से चोरी हुआ चावल बरामद, ड्राइवर ने ही बेंचा था चावल