राम जानकी मंदिर से चोरी हुई मूर्तियां बरामद

मूर्तियों को मन्दिर में रखकर चले गये चोर

गोशाईंज। राम जानकी मंदिर से भगवान की चोरी गई मूर्तियों को गोसाईगंज पुलिस ने बरामद कर लिया है। हालांकि घटना को अंजाम देने वाले चोर पुलिस के हाथ नहीं लग सके हैं। चोरों की शिनाख्त और गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबाव बनाए है। सीओ सदर ने घटना का खुलासा करते हुए बरामद की गई मूर्तियों को मंदिर में स्थापना के लिए पुजारी को सौंप दिया है।
घटना बीते फरवरी माह में गोसाईगंज थाना क्षेत्र के परमानपुर बोधीपुर गांव में हुई थी। जहां पर सैकड़ों वर्ष पूर्व बने प्राचीन मंदिर से भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण जी की मूर्तियों को चोरों ने मंदिर से गायब कर दिया। उस समय मंदिर के पुजारी सेवादास की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 457 व 380 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर जांच शुरू की। परंतु कई महीने गुजर जाने के बाद भी मंदिर की मूर्तियों को बरामद नहीं किया जा सका।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी द्वारा अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत पुलिस द्वारा लगातार दबाव बनाए जाने के बाद चोरों ने तीन जुलाई की रात भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण जी की मूर्तियों को मंदिर में रख गये। चार जुलाई की सुबह मंदिर के पुजारी सेवादास ने मामले की जानकारी गोसाईगंज पुलिस को दी। दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी गोसाईगंज श्रीनिवास पांडे ने मूर्तियों को अपने कब्जे में लेकर उच्चाधिकारियों को सूचित किया। इसके बाद क्षेत्राधिकारी सदर वीरेंद्र विक्रम ने गोसाईगंज थाने पर प्रेसवार्ता कर घटना का अनावरण किया तथा बरामद भगवान की मूर्तियों को मंदिर के पुजारी सेवादास को पूजा पाठ करने के लिए सौंप दिया।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  धरा को बनाना होगा प्लास्टिक मुक्त : रामचन्द्र यादव