कृषि मंत्री ने स्मार्ट क्लास रूम का किया उद्घाटन

कृषि विवि के शोध व प्रसार कार्यों की हुई समीक्षा

मिल्कीपुर। नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज शोध एवं प्रसार कार्यों की समीक्षा करने पहुंचे प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने स्मार्ट क्लास रूम का उद्घाटन किया और विश्वविद्यालय के नए वाहनों को हरी झंडी दिखाकर कृषि विज्ञान केंद्रों के लिए रवाना किया। नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज के कार्यों की समीक्षा बैठक शनिवार को विश्वविद्यालय में आयोजित की गई समीक्षा बैठक में मौजूद प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री कृषि, कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान सूर्य प्रताप शाही ने विश्वविद्यालय के प्रसार विभाग द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न शोध कार्यों की बिंदुवार समीक्षा की।
समीक्षा बैठक में मौजूद प्रदेश के कृषि अनुसंधान परिषद लखनऊ के महानिदेशक डॉ बृजेंद्र सिंह ने कृषि मंत्री को बुके भेंट कर उनका स्वागत किया विश्वविद्यालय के निदेशक प्रसार डॉ एपी राव ने विश्वविद्यालय के प्रसाद निदेशालय की ओर से चलाए जा रहे 23 कृषि विज्ञान केंद्रों की प्रगति से अवगत कराया उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 – 18 में 17 कृषि विज्ञान केंद्रों के 122.58 हेक्टेयर क्षेत्र से 2563 कुंतल बीज उत्पादन हुआ था जबकि वर्ष 2018 – 19 में 23 कृषि विज्ञान केंद्रों के 166.65 हेक्टेयर क्षेत्र से 4370 कुंतल बीज उत्पादन हुआ। समस्त कृषि विज्ञान केंद्र अपने मैंडेट के अनुसार प्रशिक्षण, प्रदर्शन परक्षेत्र परीक्षण एवं अन्य प्रसार संबंधी कार्य कर रहे हैं। समीक्षा बैठक में मौजूद निदेशक शोध डॉ बीएन राय ने शोध परियोजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। समीक्षा बैठक में मौजूद विश्वविद्यालय के सभी विभागों के विभागाध्यक्षों ने अपने-अपने विभागों की प्रगति से अवगत कराते हुए शोध एवं प्रसार कार्य में आ रही समस्याओं से भी कृषि मंत्री को अवगत कराया।
कृषि मंत्री की समीक्षा बैठक में मौजूद विश्वविद्यालय के समस्त प्रशासनिक अधिकारियों सहित विभागाध्यक्षों ने विश्वविद्यालय में सबसे बड़ी समस्या शिक्षकों एवं कर्मचारियों की कमी का होना बताया इसके अलावा विश्वविद्यालय में धन अभाव के कारण प्रयोगशाला हेतु उचित संसाधन ना होने की भी बात बताई गई अधिकतर क्षेत्रों पर नलकूप एवं बाउंड्री वाल आज की समुचित व्यवस्था से भी अवगत कराया गया विश्वविद्यालय की समस्याओं को सुनने के बाद कृषि मंत्री ने विभिन्न स्तरों से समस्याओं को सुलझाने हेतु मौजूद विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्षों एवं अधिकारियों को आश्वासन भी दिए समीक्षा बैठक में मौजूद कृषि विश्वविद्यालय प्रबंध परिषद सदस्य एवं मिल्कीपुर विधायक गोरखनाथ बाबा ने विश्वविद्यालय के प्रसार सूद सहित अन्य समस्याओं में विधायक निधि से कृषि विश्वविद्यालय को सहयोग प्रदान किए जाने की भी बात कही। विधायक श्री बाबा ने कहा कि वैज्ञानिक गढ़ विभिन्न परियोजनाएं बनाकर राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में प्रेषित करें ताकि कृषि एवं कृषि शिक्षा तथा शोध के आधार पर देश के प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना किसानों की आय दोगुनी करने को चार चांद लग सके। समीक्षा बैठक के उपरांत कृषि मंत्री ने विश्वविद्यालय के विभिन्न क्षेत्रों शोध प्रसार कार्यो का स्थलीय निरीक्षण भी किया उन्होंने विश्वविद्यालय के स्मार्ट क्लास का उद्घाटन किया तथा विश्वविद्यालय अंतर्गत 17 कृषि विज्ञान केंद्रों के लिए क्रय की गई नई बोलेरो टीयूवी वाहनों को हरी झंडी दिखाकर कृषि विज्ञान केंद्रों के लिए रवाना किया।
इस मौके पर प्रमुख रूप से विश्वविद्यालय के निदेशक प्रशासन एवं परवीक्षा डॉ आर के जोशी, पशुपालन महाविद्यालय के वरिष्ठ प्रोफेसर डॉ सुशांत श्रीवास्तव, निदेशक प्रसार डॉक्टर ए पी राव, अधिष्ठाता कृषि उद्यान एवं वानिकी, डॉक्टर विक्रम प्रसाद पांडे, डॉ पी के सिंह, डॉ रवि प्रकाश मौर्या, डॉ सुमन मौर्य सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

इसे भी पढ़े  शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई अयोध्या की 14 कोसी परिक्रमा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More