महिला उत्पीड़न के मामले देखेंगे सीओ: जोगेन्द्र कुमार

0

कहा कानून का पालन न कराने वाली पुलिस पर होगी कार्यवाही

फैजाबाद। महिला उत्पीड़न के मामले अब सीओ स्तर का अधिकारी देखेगा जिसका आदेश दे दिया गया है। जो पुलिस अधिकारी या आरक्षी कानून का पालन नहीं करायेगा उसके विरूद्ध भी कार्यवाही की जायेगी। यह विचार पुलिस लाइन सभागार में नवागत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेन्द्र कुमार ने पहली पत्रकार वार्ता में व्यक्त किया।
उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास होगा कि महिला पुलिस को अच्छी व्यवस्था दी जाय। जिन थानों व चैकियों में महिला पुलिस के लिए शौंचालय नहीं है वहां निर्माण के लिए सरकार से बजट मांगा जायेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस और जनता के मध्य अच्छा तालमेल रखा जायेगा जिससे समस्या का शीघ्र समाधान किया जा सके। जो पुलिस कर्मी पीड़ित की समस्या नहीं सुनेगा उसके विरूद्ध कार्यवाही होगी। समस्या का वाजिब समाधान हो ऐसी मंशा सरकार की है इसीलिए वह हमें पब्लिक सेवा के लिए पैंसा देती है। पुलिस का व्यवहार जनता के साथ मित्रवत होना चाहिए जिसका पूरा प्रयास किया जायेगा। उन्होंने कहा पुलिस कर्मी जैसा व्यवहार अपने प्रति चाहते हैं उसी तरह का व्यवहार उन्हें जनता के साथ करना होगा। कानून का पालन सख्ती और कलम से किया जायेगा। अपराधिक तत्वों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही होगी जिससे कानून व्यवस्था में सुधार आयेगा। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दे दिया गया है कि जिले भर में जितने दुर्गा पांडाल लगाये गये हैं उनकी सुरक्षा की विशेष व्यवस्था की जाय। उन्होंने कहा कि मै 2007 बैच का आपईपीएस हूं। विभिन्न जनपदों में एसएसपी के पद पर रह चुका हूं। जिसमें एटीएस का एसएसपी पद भी शामिल है। उन्होंने कहा कि मऊ जनपद में जब मेरी तैनाती हुई अभी तैनाती के पांच दिन भी नहीं हुए थे कि एक मुठभेड़ में दो शातिर अपराधियों को हमने मार गिराया था। इस साहसिक अभियान के लिए राष्ट्रपति ने वीरता पदक उन्हें प्रदान किया था। हम बता देना चाहते हैं कि अपराधी तत्व सुधार जायें अन्यथा वह जेल जाने के लिए तैयार रहें। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय कुमार भी मौजूद रहे।

इसे भी पढ़े  फिल्मी कलाकारों की रामलीला के छठवें दिन बालि वध, रावण सीता संवाद और लंका दहन का हुआ मंचन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: