कहां है मेरा रोजगार?  जनौस ने की भूख हड़ताल

कहा रोजगार का संकट वर्तमान दौर का सबसे बड़ा संकट

फैजाबाद। भारत की जनवादी नौजवान सभा के प्रदेश सचिव कामरेड राधेश्याम वर्मा ने कहा कि आज रोजगार के सवाल पर संगठन के राष्ट्रीय आवाहन पर कहाँ है मेरा रोजगार ? के मुद्दे को लेकर देश के हर प्रदेश और हर प्रदेश के हर जिला मुख्यालय पर 24 घण्टे की भूख हड़ताल करके युवाओ के रोजगार के मुद्दे को केंद्र सरकार को चेतावनी दे रहे है।इसी क्रम में फैजाबाद सदर तहसील के सामने तिकोनिया पार्क में 24 घंटे की हड़ताल पर सुबह 10 बजे से 15 युवा बैठे है।
कामरेड राधेश्याम वर्मा ने कहा कि रोजगार का संकट वर्तमान दौर का सबसे बड़ा संकट बन चुका है।हमारी आजादी के इतने वर्षों के बाद अभी तक रोजगार के अधिकार को संविधान का मूल अधिकार नही बनाया जा सका है ।मोदी जी ने अपने चुनावी भाषणों में प्रतिवर्ष 2 करोड़ नौजवानों को रोजगार देने का वादा किया था ,लेकिन सरकार के सभी प्रमुख छेत्रो निर्माण,परिवहन,टूरिज्म,होटल मैनेजमेंट, सेवा आदि में पिछले चार सालों में 10 लाख लोगों को भी रोजगार देने में सरकार असफल रही है। रोजगार सृजन के नाम पर सरकार द्वारा दिये कम इन इंडिया-मेक इन इंडिया, स्किल इण्डिया, डिजिटल इण्डिया, स्टार्ट अप इण्डिया आदि नारे खोखले साबित हुये है।इसके अलावा सरकार ने सरकारी विभागों में रिक्त पड़े पदों में से साढ़े चार लाख पदों को समाप्त कर दिया।
प्रदेश उपाध्यक्ष कामरेड सत्यभान सिंह जनवादी ने कहा कि आज जिलाध्यक्ष कामरेड धीरज द्विवेदी के नेतृत्व में का सत्यभान सिंह जनवादी, कामरेड पूजा शर्मा,कामरेड कोमल गौड़,कामरेड माधुरी,कामरेड अनीता,कामरेड रेशमाबानो, कामरेड माया गुप्ता,कामरेड रामजी तिवारी,कामरेड खुर्शीद,कामरेड अमरनाथ वर्मा,कामरेड शेरबहादुर शेर,कामरेड गुलाब सिंह,अरविंद कुमार यादव,रितिक शर्मा,शिव कुमार आदि साथी 24 घण्टे की भूख हड़ताल पर रोजगार की मांग को लेकर बैठे है।हमारी प्रमुख मांगे-प्रतिवर्ष 2करोड़ नौजवानों को रोजगार देने का वादा पूरा करो,सरकारी विभागों के लाखों रिक्त पदों को तत्काल भरो,राष्ट्रीय युवा नीति को प्रभावी स्तर पर लागू करो,महिला हिंसा पर तत्काल रोक लगाओ आदि मांगो को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे है।
भूख हड़ताल में जनौस जिलाप्रभारी कामरेड विश्वजीत सिंह राजू, किरण शर्मा, शिवकुमार श्रीवास्तव पल्लन,अजय बाबा, श्रवण कुमार श्रीवास्तव, जगन्नाथ प्रजपति, विक्रमनन्द, लक्ष्मी नारायण, घनश्याम, राजा,परशुराम, वसंशराज, संतराम अखिलेश, संदीप, परमेशर, रामचरित, सूर्यनारायण, मंशाराम, अंकुर, रामचरण, रामदेव आदि सैकड़ो साथी मौजूद रहे।
आज भूख हड़ताल को डाक्टर अनिल कुमार सिंह,दिनेश सिंह ने साथियो को माला पहनाकर भूख हड़ताल शुरू करवाये। भूख हड़ताल के समर्थन में इंकलाबी नौजवान सभा के प्रदेशाध्यक्ष कामरेड अतीक अहमद,कामरेड उमाकांत विश्कर्मा,सीपीआई नेता कामरेड अशोक तिवारी,माकपा जिला सचिव कामरेड माताबदल, कामरेड सीताराम वर्मा ने समर्थन किया।

इसे भी पढ़े  ... सिकंदर हूं मगर हारा हुआ हूं

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More