The news is by your side.

ग्राम स्तर पर संचालित योजनाओं का सत्यापन कर दें रिपोर्ट : मनोज मिश्र

मण्डलायुक्त ने की समीक्षा बैठक

अयोध्या। मण्डलायुक्त मनोज मिश्र ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में मण्डल के पांचो जनपदो के विकास, कल्याणकारी योजनाओं, निर्माण कार्यो, स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रम व होमवेस्ड न्यूवार्न केयर कार्यक्रम की विस्तृत समीक्षा करते हुये कहा कि अधिकारी जब अपने विभाग से सम्बन्धित योजनाओं के सत्यापन के लिए गांवो में जाये तो वह कुछ समय निकाल कर आम ग्रामीणों व ग्राम प्रधानों से भी बातचीत करें तथा अन्य विभागों की योजनाओं का सत्यापन कर रिर्पोट दें, क्यांकि किसी एक अधिकारी के लिए यह सम्भव नही है कि वह पूरे जनपद या मण्डल के विकास कार्यो का स्थलीय सत्यापन कर सके।
उन्होंने कहा कि अधिकारी टीम भावना से कार्य करें और ग्रामों के निरीक्षण के दौरान यह भी सत्यापित कर ले कि ए.एन.एम. व आशा गांवो में जाती है, टीकाकरण हो रहा है, शौचालय और आवास बने है कि नहीं, नहरों में पानी आ रहा है कि नहीं, धान खरीद की क्या स्थिति है, राशन की दुकानों से खाद्यान्न वितरित हो रहा है आदि अन्य योजनाअें का भी सत्यापन करें। मण्डलायुक्त ने कहा कि लो-वर्थ वेट बच्चों के लिए अधिक से अधिक सुविधायें उपलब्ध कराने का प्रयास करें, आशाओं को मिलने वाली थर्मामीटर, वेट मशीन आदि की किट उपलब्ध करायें तथा जिन आशाओं के पास थर्मामीटर खराब हैं उन्हें थर्मामीटर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। आशाओं का भुगतान समय पर करें। उन्होनें बताया कि नवजात बच्चों की देखभाल लगातार समीक्षा के क्रम में अयोध्या मण्डल प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। आयुक्त श्री मिश्र ने कहा कि कुपोषित बच्चों को सुपोषित श्रेणी में लाने के लिए विशेष प्रयास किए जाये और गांव को कुपोषण मुक्त गांव की श्रेणी मे लाया जाये तथा गांवो में माह के प्रथम बुधवार को सुपोषण स्वास्थ्य मेला लगाया जाये तथा स्वास्थ्य मेले में अधिकारी विजिट कर यह सुनिश्चित करें कि मेले में सभी सुविधायें उपलब्ध कराई जा रही है। उप निदेशक चिकित्सा ने बताया कि मण्डल के चार जनपदों में एम0आर0 कैम्पेन पहले से चलाया जा रहा है, जनपद अयोध्या में एम0आर0 कैम्पेन 10 दिसम्बर से विद्यालयों व स्वास्थ्य केन्द्रो में प्रारम्भ हुआ है। मण्डलायुक्त श्री मिश्र ने कहा कि एम0आर0 के टीकाकरण में अफवाओं पर ध्यान न दें, यह पूरी तरह से सुरक्षित तथा डब्लू0एच0ओ0 से प्रमाणित है। प्रदेश में अब तक 9 माह से 15 वर्ष तक के 1.5 करोड़ से अधिक बच्चों को यह टीका लगाया जा चुका है।
उन्होंने बताया कि धान खरीद सरकार की प्राथमिकताओं में से एक है। सभी जिलाधिकारी धान खरीद पर विशेष ध्यान दें। मिलर्स के यहां डिलेवरी पर जोर दें। मण्डल में गन्ना की पांचो मीलें संचालित हो गई हैं। गन्ने के बकायें का शत् प्रतिशत भुगतान हो गया है। मण्डलायुक्त ने पर्चियों को समय से जारी करने व पांच दिन का गन्ना किसानो को समय देने के निर्देश दिये, जिससे गन्ना किसान आसानी से गन्ना उपलब्ध करा सकें। मण्डल में 90 प्रतिशत क्षेत्र में बुवाई पूर्ण हो गई है इस वर्ष पिछली वर्ष की अपेक्षा अधिक बीज बांटा गया है, मण्डल में बीज एवं खाद्य की कोई दिक्कत नही है। मण्डल के सभी जनपदों में 12 दिसम्बर से ग्राम पंचायत स्तर पर किसान पाठ्यशाला का आयोजन स्कूलो में 3 से 4.30 बजे तक होगा। जिसमें विश्व विद्यालय के पीजी और पीएचडी के छात्रों के साथ-साथ प्रगतिशील किसानों को आदि के द्वारा जानकारियां दी जायेगी।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.