उर्स हिन्दू-मुस्लिम एकता का माध्यम: राजन पाण्डेय

उर्स में शामिल हुए समाजसेवी

Advertisement

फैजाबाद। उर्स हिन्दू मुस्लिम एकता का माध्यम है दोनों समुदाय के लोग उर्स समभाव से मनाते हैं जिससे भाईचारा विकसित होता है। यह विचार जिला पंचायत क्षेत्र अमानीगंज चतुर्थ की विभिन्न ग्राम सभाओं में आयोजित उर्स समारोहों में बतौर मुख्य अतिथि भाग लेते हुए समाजसेवी राजन पाण्डेय ने व्यक्त किया।
समाजसेवी राजन पाण्डेय ग्राम सभा रानिकपुर में बाबा अंजान शाह की मजार पर आयोजित उर्स में शामिल हुए और 51 हजार रूपये बतौर सहायता प्रदान किया। इसी तरह झरितग का पुरवा में बाबा झालीशाह की मजार पर आयोजित उर्स में जाकर 5100 रूप्ये की सहायता प्रदान किया। वह बाबू शहादत का पुरवा में आयोजित नौगजा शाह की मजार पर आयोजित उर्स में भी भाग लिया और आर्थिक सहायता प्रदान किया।
इस मौके पर उन्होंने कहा कि जिला पंचायत चुनाव में ग्राम सभा रानिकपुर ऐसे ग्राम सभा थी जहां 90 फीसदी अल्पसंख्यक होने के बावजूद जनता ने सपा बसपा कांग्रेस भाजपा आदि के प्रत्याशियों को पीछे छोड़कर मुझ निर्दल प्रत्याशी को 1236 वोटों से विजयी बनाया और मेरे सम्मान की रक्षा किया। मै यहां के वाशिंदों को सदैव ऋणी रहूंगा। इस मौके पर समाजसेवी राजन पाण्डेय के साथ मो. रहमान, मो. असलम, दिलशाद खार, मो. शबीम, मो. रफीक, सोनू खां, अनिल मिश्रा, मोंटी शुक्ला, विजय प्रताप पाण्डेय, अंकित पाण्डेय आदि मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  समाजवादी युवजन सभा की जिला कमेटी घोषित