The news is by your side.

एआरटीओ की चेकिंग मे फंसी दो बसो में दो यात्रियों की मौत, बढ़ा आक्रोश

-एआरटीओ बने संवेदनहीन, मानवता को धता बताते हुए एआरटीओ मौके से हुए फरार, गुस्साये यात्रियों के साथ स्थानीय लोगों ने थाना रौनाही के सामने काटा हंगामा

रौनाही थाना क्षेत्र के रौनाही टोल प्लाजा पर एआरटीओ अयोध्या प्रवीण कुमार सिंह द्वारा भीषण गर्मी मे चेकिंग लगाने का दिल्ली से बिहार जा रही दो बसों की दो सवारियों को मौत का शिकार होना पड़ा। यात्रियों की मौत पर आक्रोशित बस यात्रियों का बढ़ता हंगामा देख चैकिंग टीम में भगदड़ मच गयी। आनन फानन मे नीली बत्ती से लैस चेकिंग टीम अपना वाहन लेकर मौके से विपरीत दिशा में फरार हो गये।

Advertisements

बताया जाता है कि दिल्ली से दो यूपी 51एटी 8109 तथा यूपी 22 एटी 3897 बस संख्या बिहार जा रही थी। टोल प्लाजा पहुचने पर एआरटीओ द्वारा वाहन चैकिंग करने मे कागजात में कमी पाए जाने से लगभग आधा दर्जन बसो को थाना रौनाही लाकर कागजात सहित ड्राईवर से चाबी लेकर थाने पर सौंप दिया। दोनो बस के चालको ने भीषण गर्मी तथा एक एक यात्री के बीमार होने की दुहाई देते हुए छोड़ने की गोहार लगाते रहे। लेकिन जांच टीम द्वारा कोई सुनवाई नही हुई। एआरटीओ के आमनवीयता पूर्ण व्यवहार के कारण यूपी 51एटी 8109 की सवारी 38 वर्षीय रामचंदर पुत्र दिल्लर थाना मरौना जिला सीपोल बिहार तथा यूपी 22 ए टी 3897 का अज्ञात यात्री की मौके पर मौत हो गयी।

मौत होने की जानकारी होते ही आक्रोशित यात्रियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामा बढ़ता देख ए आर टी ओ टीम मौके से फरार हो गई। रौनाही पुलिस ने भी संवेदन शून्यता दिखाते हुए शव को कब्जे में लेने के बजाय चालकों को चाभी सौप कर गन्तव्य की ओर रवाना कर दिया। जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। आक्रोशित अन्य यात्रियों की सूचना पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी संदीप सिंह ने मानवता की मिसाल कायम करते हुए तत्काल सभी बसों के कागजात सहित चालको को चाभी सौंप शव का पंचनामा अथवा पोस्टमार्टम जैसी प्रक्रिया कराने से गुरेज करते हुए गंतव्य की ओर रवाना किया।

इसे भी पढ़े  मेला परिसर में साफ सफाई की हो बेहतर व्यवस्था : नितीश कुमार

इस सम्बंध में पूछे जाने पर ए आर टी ओ प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि चेकिंग के दौरान 6 बसों को पकड़कर सीज किया गया था बस में किसी यात्री के मौत की सूचना नहीं है। मानवता के आधार पर सीज के बाद भी सभी बसों को जाने दिया गया है। नोटिस देकर बाद में गिरफ्त में लिया जायेगा। एस पी ग्रामीण अतुल कुमार सोनकर ने बताया कि घटना की सूचना लोगों के माध्यम से मिली है। सीओ सदर के माध्यम जाँच करायी जायेगी।

Advertisements

Comments are closed.