The news is by your side.

दर्शनार्थियों के दर्शन मार्ग में न हो किसी भी प्रकार का व्यवधान

-मण्डलायुक्त ने श्रीराम जन्मभूमि परिसर की व्यवस्थाओं का किया निरीक्षण


अयोध्या। मण्डलायुक्त गौरव दयाल की अध्यक्षता में प्रशासन एवं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के मध्य बेहतर समन्वय बनाने के लिए गठित समन्वय समिति की बैठक श्रीराम जन्मभूमि परिसर स्थित एल0एण्ड0टी0 सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। मण्डलायुक्त ने कहा कि परिसर की साफ सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ रखते हुये एक सुनियोजित व्यवस्था अपनायी जाय, जिसके तहत नियमित साफ सफाई सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि पी0एफ0सी0 परिसर में बेहतर साफ सफाई व्यवस्था रहे, आने वाले दर्शनार्थियों के सामान यथा उचित स्थानों पर रखें जाय तथा जूता चप्पल काउंटर पर ही रखने के लिए दर्शनार्थियों को प्रेरित किया जाय,जिससे कि इधर उधर जूता चप्पल बिखरे न रहे।

Advertisements

इसके अलावा परिसर में प्रवेश द्वार के अलावा अन्य स्थलों पर भी व्हील चेयर की व्यवस्था रहे। परिसर में प्रमुख स्थानों पर दर्शनार्थियों को विभिन्न प्रकार की जानकारियों के लिए एलईडी स्क्रीन लगाने के सम्बंध में चर्चा की गई।बैठक में मंदिर निर्माण के साथ साथ आने वाले दर्शनार्थियों के दर्शन मार्ग में किसी भी प्रकार का व्यवधान न हों इसके सम्बंध में भी चर्चा की गयी। मण्डलायुक्त ने सुझाव दिया कि मंदिर परिसर के विभिन्न स्थलों पर जो ए0आई0 बेस्ड कैमरे लगाए जाने है उनमें फेस रिकॉग्निशन(पहचान)की व्यवस्था होती है इसलिए एक ऐसा ऐप या स्कैनर विकसित कर लिया जाय, जिससे दर्शन करने हेतु आये दर्शनार्थी मंदिर परिसर में ए0आई0 कैमरों में ली गयी उनकी फोटो परिसर के बाहर लगाये गये क्यूआर कोड को स्कैन कर या ऐप के माद्यम से मंदिर परिसर के अंदर की अपनी फोटो प्राप्त कर सकें।

इसे भी पढ़े  डॉ. डी.आर.भुवन को प्री स्टेट शूटिंग चैंपियनशिप में मिला मेडल

इसके विषय में ट्रस्ट द्वारा एल0एण्ड0टी0 के तकनीकी अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये गए। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजकरन नैय्यर, ट्रस्ट के सदस्य डा0 अनिल मिश्र, गोपाल दास, एस0पी0 सुरक्षा पंकज, एल0एण्ड0टी0 के प्रतिनिधि सहित अन्य उपस्थित रहे। बैठक के पूर्व मण्डलायुक्त गौरव दयाल व आईजी प्रवीण कुमार ने मंदिर के दर्शन मार्ग, निकास द्वार, पीएफसी परिसर सहित अन्य प्रमुख स्थलों का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों द्वारा दर्शन करने हेतु विभिन्न प्रदेशों से आये दर्शनार्थियों से दर्शन व्यवस्था में सुधार हेतु सुझाव मांगे और उनसे फीडबैक भी प्राप्त किया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न स्थलों पर तैनात सुरक्षा कर्मियों से दर्शनार्थियों की हरसम्भव मदद करने के निर्देश दिए।

 

Advertisements

Comments are closed.