दीवाल बनाने के विवाद में दो पक्षों में खूनी संघर्ष

0
  • सात गम्भीर, ट्रामा सेंटर में हो रहा उपचार

  • पुरानी रंजिश में भिड़े सगे भाई

रूदौली । पटरंगा थाना क्षेत्र के मखदूम पुर गाँव मे बुधवार की सुबह लग भग आठ बजे दो सगे भाइयों मे पूरानी रंजिश व दीवाल बनाने को लेकर दोनों पक्ष आपस मे भिड़ गये ।जो देखते ही देखते धार दार हथियार व ईट गुम्मो से जान लेवा हमला करके मरणासन कर दिया ।एक पक्ष से लगभग एक दर्जन लोग गम्भीर रूप से घायल हो गये है। जिसमें से सात लोगों का लखनऊ ट्रामा सेन्टर मे इलाज चल रहा है ।जबकि दूसरे पक्ष से तीन लोगों को मामूली चोटे आयी है।वही घटना के बाद पटरंगा पुलिस को सूचना दी गयी लेकिन हमारी मित्र पुलिस अपनी काली करतूतो से बाज नही आयी और वह मात्र पाँच सौ मीटर की दूरी तय करने मे आधा घंटे लगा दिया वहीं जब शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक जोगेन्द्र कुमार से की गयी तो पुलिस हरकत में आयी ।गम्भीर रूप से घायल पक्षो का आरोप है कि विपक्षी जनो ने पटरंगा पुलिस को मोटी रकम देने पर इस सनसनीखेज घटना को अंजाम देने मे पुलिस का अहम रोल माना जा रहा है।
जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह आठ बजे पटरंगा थाना के मखदूम पुर गाँव में दो सगे भाई कामता प्रसाद पुत्र भिखारी लाल व अम्बिका प्रसाद पुत्र भिखारी लाल के बीच रास्ते को लेकर लग भग पाँच साल से विवाद चल रहा था।जिसमें दीवानी न्यायालय मे मुकदमा भी चल रहा है।लेकिन अम्बिका प्रसाद अपने लड़को व कुछ बाहरी लोगों पहले से बुला रखा था।और रोक लगी दीवाल पर पुनः निर्माण करने लगे जिसमें सोनू कुमार पुत्र शारदा प्रसाद ने कहा कि इस पर मुकदमा चल रहा है और इस पर कोर्ट का स्टे भी है जिस पर विपक्षी रजनीश कुमार पुत्र अम्बिका प्रसाद ने कहा कि आओ मै अभी यही पर आज तुम्हारा मुकदमा यही पर खत्म कर दे रहा हुँ।बस आव न ताव अपने बाहर से आये लग भग आधा दर्जन साथियों के साथ मिलकर जो सभी धार दार हथियार व लाठी डण्डो से लैस थे और सब एक साथ मिल कर टूट पड़े ।और एक कर कर के सब को जमीन पर लेटाते गये खून से लथपथ होकर कराह रहे थे और उधर मौका पाकर घर पर मौजूद महिलाओं को भी नही बक्सा और उनके गहनो को भी नोंच डाला।इस घटना को अंजाम देने के बाद बाहर से आये हमला वर घटना स्थल से एक दो तीन हो गये।घटना की सूचना डायल 100 व पुलिस को दी गयी लेकिन आधा घंटे तक न पहुचने पर सूचना वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक जोगेन्द्र कुमार को दी गयी जब उन्होंने पटरंगा थाना प्रभारी बृजेश सिंह से सख्ती से पेश आये तब जा कर आनन फानन मे पुलिस मौके पर पहुँच कर सभी घायलों को निजी वाहन से सीएचसी मवई भेजा गया ।जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद गम्भीर रूप से घायल रोशन लाल 40 वर्ष को जिला अस्पताल भेजा गया जहां पर आधे घंटे तक मरीज बाहर तड़पता रहा लेकिन कोई पुरसा हाल नही रहा।वही बाद मे भर्ती लेने के बाद तुरंत लखनऊ मेडिकल कालेज के लिए रिफर कर दिया गया।वही सीएचसी मवई मे मौजूद अन्य घायलों को सीएचसी अधिक्षक डा रविकांत वर्मा ने लखनऊ ट्रामा सेन्टर भेज दिया जिसमे शारदा प्रसाद 55 वर्ष कामता प्रसाद 60 वर्ष संतोष कुमार 16 वर्ष अंकित कुमार 15 वर्ष सचिन कुमार 9 वर्ष रूचि देवी 18 वर्ष गंगादेई 57 वर्ष मंजू देवी दया वती 35 वर्ष आदि शामिल है।वही दूसरे पक्ष से अम्बिका प्रसाद 50 वर्ष आरती देवी 45 वर्ष रजनीश घायल हुए है।जिसमें अम्बिका को जिला अस्पताल भेजा गया है।लेकिन रोशन लाल की हालत चिंता जनक बतायी जा रही है।जिसकी पटरंगा थाना मे कामता पुक्ष से सोनू कुमार ने नाम जद तहरीर दिया है जिसमे अम्बिका प्रसाद रजनीश कुमार दिनेश कुमार आरती देवी पूंजा देवी लक्ष्मी देवी व बाहर से आये अज्ञात के विरूद तहरीर दिया।
इस घटना के बावत रूदौली क्षेत्राधिकारी अमर सिहं से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि मै सीएच सी मवई गया था और मै घायलों से मिल आया हूँ इसमे दोषियो को बक्सा नही जायेगा और उन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जायेगा।

इसे भी पढ़े  फिल्मी कलाकारों की रामलीला के छठवें दिन बालि वध, रावण सीता संवाद और लंका दहन का हुआ मंचन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: