The news is by your side.

अधिक उत्पादकता वाले किसानों के अनुभवों का लाभ दिलाने हेतु गन्ना किसानों को विभाग कराएगा विजिट

अधिक गन्ना उत्पादन प्राप्त कर रहे एवं उत्पादकता पुरस्कार प्राप्त किसानों के फार्म पर होंगे प्रदर्शन

अयोध्या। प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया किकम लागत में अधिक उत्पादन प्राप्त करने वाले कृषकों के अनुभवों का लाभ लिये जाने हेतु आस-पास के क्षेत्रों के निकटवर्ती किसानों, जो उस ग्राम अथवा आस-पास के ग्रामों के निवासी हैं, को प्रगतिशील किसानों के खेतों पर विजिट कराने हेतु समस्त उप गन्ना आयुक्तों एवं जिला गन्ना अधिकारियों को निर्देश जारी किये गये हैं। इस विजिट के माध्यम से अन्य किसान भी प्रगतिशील किसानों के अनुभवों, विचारों, शस्य क्रियाओं, अपनायी गयी तकनीकी विधियों एवं तकनीकी जानकारियों के आधार पर अपनी खेती में सुधार ला सकेंगे तथा गन्ने की खेती के माध्यम से अपनी आमदनी भी बढ़ा सकेंगे।

Advertisements

इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए गन्ना आयुक्त ने बताया कि प्रगतिशील गन्ना किसानों को अधिक उत्पादन प्राप्त करने एवं अन्य विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य हेतु हॉल ही में मा. मुख्यमंत्री जी के कर-कमलों से उत्कृष्टता एवं उत्पादकता पुरस्कार प्रदान किये गये हैं। गन्ना प्रतियोगिताओं के अन्तिम परिणामों में प्रगतिशील किसानों के प्लाटों पर 2,655 कुन्तल प्रति हेक्टेयर का उत्पादन लिये जाने की स्थिति पाई गई, जबकि प्रदेश की औसत गन्ना उपज 823 कुन्तल प्रति हेक्टेयर है। ऐसी स्थिति में विभिन्न परिक्षेत्रों में लगभग 30 से 35 शिक्षित एवं युवा तथा महिला किसान हैं जो खेती को उद्यम के रूप में अपनाकर नवोन्मेषी तकनीकों द्वारा कम लागत में अधिक गन्ना एवं अन्य फसलों का अच्छा उत्पादन प्राप्त कर रहे हैं, इनके अनुभवों का लाभ अन्य किसानों को भी मिलना चाहिए।

इसे भी पढ़े  जिगनाही जंगल में लगी भीषण आग,  10 परिवारों की संपूर्ण गृहस्थी भी जलकर राख

श्री भूसरेड्डी द्वारा परिक्षेत्रीय अधिकारियों को निर्देश जारी किये गये हैं कि अधिक गन्ना उत्पादन प्राप्त कर रहे एवं उत्पादकता पुरस्कार प्राप्त किसानों के फार्मों पर अन्य किसानों को विजिट कराने से पूर्व प्रत्येक जिले में 1,200 कुन्तल प्रति हेक्टेयर से अधिक गन्ना उपज प्राप्त करने वाले किसानों की सूची तैयार की जाये तथा उच्च उत्पादन प्राप्त करने वाले एवं अभिनव तकनीक द्वारा खेती करने वाले युवा किसानों के खेतों पर प्रदर्शन करायें जायें।

इन खेतों पर विजिट के समय युवा किसानों तथा उच्च उत्पादकता लेने वाले गन्ना किसानों के अनुभव विजिट करने वाले किसानों के साथ साझा कराये जायें जिससे संवाद एवं विचारों का आदान-प्रदान कृषकों के बीच हो सके और इस दौरान विभागीय अधिकारियों अथवा कार्मिकों का हस्तक्षेप न्यूनतम रहे। इस विजिट के समयप्रगतिशील किसानों के साथ अन्य किसानों की संवाद वाली 03 से 05 मिनट की लघु वीडियो क्लिप एवं फोटोग्राफ भी तैयार कर विभागीय वेबसाइट एवं सोशल मीडिया यथा-विभागीय यूट्यूब, फेसबुक, ट्विटर पर अपलोड कराये जायें, जिससे यह किसानों के लिए सुलभ रहे। इन वीडियो क्लिप्स तथा फोटोग्राफ्स का व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराया जाये।

उपरोक्त के क्रम में परिक्षेत्र अयोध्या के उप गन्ना आयुक्तश्री हरपाल सिंह द्वारा अवगत कराया गया कि जिला अयोध्या के ग्राम भिटौरा के रमेश चन्द पुत्र रामचन्द्र, ग्राम सरैठा की श्रीमती राजदेई पत्नी साहबसरन व ग्राम अख्तियारपुर के गुड्डू पुत्र केशवराम ने 1200 कु. प्रति हे. से अधिक की उपज प्राप्त कर रेंज गन्ना प्रतियोगिता के अन्तर्गत अभी हाल ही में परिक्षेत्र स्तर पर पुरस्कृत किया गया है। श्री सिंह ने अवगत कराया कि जिला गन्ना अधिकारियों द्वारा कार्यक्रम तैयार कर अन्य कृषकों को 1200 कु. प्रति हे. से अधिक की उपज वाले कृषकों के गन्ना खेतों का प्रदर्शन कराया जा रहा है।

Advertisements

Comments are closed.