किसानो की बर्बादी के लिए सत्ता, प्रशासन व पूंजीपति का गठजोड़ जिम्मेदार ः सूर्यकान्त पाण्डेय

    यश पेपर मिल के प्रदूषण के पीड़ित किसानो के साथ सभी प्रभावित गांवो का निरीक्षण करेगी भाकपा

    फैजाबाद । भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के अयोध्या विधान सभा प्रत्याशी रहे सूर्यकान्त पाण्डेय ने कहा कि यश पेपर मिल के कारण सोलह किलोमीटर के हजारो किसानो की बर्बादी के लिए सत्ता, प्रशासन और पूंजीपति का गठजोड़ जिम्मेदार है ।उन्होने कहा कि भाकपा इस गठजोड़ को तोड़कर किसानो को न्याय दिलाने के लिए संघर्ष करेगी ।
           सिविल लाइन स्थित एक होटल मे आयोजित पत्रकार वार्ता मे उन्होंने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकारे किसान नवजवान,महिला सहित सभी वर्गो की विरोधी है । इन परिस्थियो मे वामपंथी विचारो की समर्थक दल ही विकल्प हो सकते है । कहा कि भाकपा प्रदेश कौंसिल के सदस्य अशोक तिवारी के नेतृत्व मे एक अगस्त से सात अगस्त तक जनजागरण करके जनता जनविरोधी ताकतो के खिलाफ एकजुट करेगी । श्री तिवारी के साथ महानगर सचिव कप्तान सिंह, रामजीराम यादव इन्डिया स्टूडेंट फेडरेशन के अध्यक्ष देवेश ध्यानी मंत्री विनीत कनौजिया आल इन्डिया यूथ फेडरेशन के गोपाल चौरसिया विकास सोनकर आदि सदस्य बनाऐ गए है। श्री पाण्डेय ने बताया कि गांव हैसा बरेहटा सरेठी सरायराशी राजेपुर रामपुर हलवारा मडना पूराबाजार के किसानो की समस्याओ को लेकर भाकपा नौ अगस्त को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन करेगी । श्री पाण्डेय ने बताया कि पार्टी का प्रतिनिधिमंडल चौबीस जुलाई को यश पेपर मिल के प्रदूषण के पीड़ित किसानो के साथ सभी प्रभावित गांवो का निरीक्षण करेगी ।
    इसे भी पढ़े  कॉपरेटिव बैंक एम्प्लाइज यूनियन ने मनाया 49वां स्थापना दिवस