The news is by your side.

पंचकोसी व चौदहकोसी परिक्रमा मार्ग प्रभावितों से प्रशासन ने किया संवाद

-डीएम ने मुआवजा व पुनर्वास की दी जानकारी


अयोध्यां। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने पंचकोसी एवं 14 कोसी परिक्रमा मार्ग के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण से प्रभावित लोगों, संतो, जन सामान्य नागरिकों से कलेक्ट्रेट सभागार में संबंधित विभाग के अधिकारियों के साथ प्रथम चरण का संवाद संपन्न हुई। बैठक में कम से कम लोगों को प्रभावित किए बिना, प्राचीन मठ, मंदिरों को यथासंभव संजोए रखते हुए 20 मीटर चौड़े पंच कोसी व 14 कोसी मार्ग के निर्माण एवं प्रभावित लोगों/दुकानदारों/भूस्वामियों को नियमानुसार अनुमन्य मुआवजा प्रदान करने, पूर्ण रूप से विस्थापित होने वाले लोगों को नियमानुसार पुनर्वासित करने जैसे आदि विषयों पर चर्चा की गई तथा उनके सुझावों को प्राप्त किया गया तथा उक्त बिंदुओं के संबंध में लोगों को विस्तृत जानकारी प्रदान की गई व उनकी शंकाओं का समाधान किया गया व उनकी समस्याओं के निराकरण हेतु आश्वस्त किया गया।

Advertisements

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बताया कि पूर्व में पीडब्ल्यूडी व राजस्व लेखपालों द्वारा किए गए दोनों मार्गों के सर्वे में प्राप्त समस्याओं का समाधान किया जा रहा है तथा उसके संबंध में लोगों से संवाद भी किया जा रहा है तथा मौके पर जाकर पुनः उसका निराकरण किया जा रहा है। चर्चा के दौरान कई लोगों द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था का सुझाव दिया गया जिस पर जिलाधिकारी ने लोगों को विचार करने हेतु अस्वस्थ किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्ण रूप से विस्थापित होने वाले लोगों को पुनर्वासित किया जाएगा। साथ में अधिक से अधिक प्रयास होना होगा कि जो जहां पर है वहीं पर उनको आवासित किया जाए तथा उनके दुकान एवं रोजगार वही कायम रहे।

इसे भी पढ़े  बिजली तार में उलझकर युवक की मौत

जिलाधिकारी ने कहा कि प्राप्त सुझावों पर गंभीरता से विचार किया जाएगा उन्होंने कहा कि यह प्रथम चरण की बैठक है और आगे द्वितीय चरण व तृतीय चरण तथा आवश्यकतानुसार और भी बैठकें होंगी और भी बैठके करके जनसामान्य के साथ संवाद स्थापित करके सभी समस्याओं का निराकरण करते हुए आगे का कार्य किया जाए। बैठक में एडीएम प्रशासन, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर, अधिशाषी अभियंता पीडब्लूडी प्रांतीय खंड, उप परियोजना प्रबंधक सेतु निगम, पीडब्लूडी प्रांतीय खंड के सभी संबंधित सहायक अभियंता, सहायक अभिलेख अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी एवम् 14 कोसी एवं पंचकोसी मार्ग के चौड़ीकरण से प्रभावित भूस्वामी, भवन स्वामी, दुकानदार व संत गण उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.