in

अभियांत्रिकी के क्षेत्र में बदल रही तकनीक : प्रो. मनीष तिवारी

“रोल ऑफ मैट्रिक्स लेबोरटी इन एडवांस कम्युनिकेशन” पर हुई कार्यशाला

अयोध्या। डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के आई0 ई0 टी0 संस्थान में इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग एवं ए0आई0टी0 बैंगलोर के संयुक्त संयोजन में आज दिनांक 15 मार्च 2019 से एक सप्ताह का फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत ”रोल ऑफ मैट्रिक्स लेबोरटी इन एडवांस कम्युनिकेशन“ विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। कार्यशाला के दूसरे दिन मुख्य वक्ता के रूप में मोती लाल नेहरू प्रौद्योगिक संस्थान प्रयागराज के प्रो0 मनीष तिवारी रहे।
कार्यशाला को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता प्रो0 मनीष तिवारी ने बताया कि अभियांत्रिकी के क्षेत्र में बदल रही तकनीक काफी नये अवसर को जन्म दे रही है। अभियांत्रिकी एक चुनौती भरा व्यवसाय है जिसने इस चुनौती को स्वीकार किया वही सफल रहा। प्रो0 तिवारी ने मैट्रिक्स लेबोरेट्री के बेसिक जानकारी को प्रतिभागियो के बीच बताया कि निक्वेस्ट प्लाट के ग्राफ कैसे डिजाईन किया जाता है। विज्ञान एवं तकनीकी संस्थान के लिए मैट्रिक्स लेबोरेट्री की कॉफी उपयोगिता है। कार्यक्रम में संस्थान के शिक्षक इं. परिमल तिवारी ने सिमुलींक के बारे में प्रतिभागियों को विस्तार से बताया। विशेषज्ञ निहाल अहमद ने दो अलग-अलग सत्रों में लैब कराया जिसका लाइव प्रैक्टिक्स भी कार्यशाला के सभी प्रतिभागियों द्वारा किया गया। कार्यशाला के समन्वयक इं. रमेश मिश्र ने रोल ऑफ मैट्रिक्स लेबोरटी इन एडवांस कम्युनिकेशन के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर डॉ0 सुधीर प्रकाश श्रीवास्तव ,डॉ0 प्रियंका श्रीवास्तव, डॉ0 वंदिता पांडेय, डॉ0 महिमा चौरसिया, इ0उमेश सिंह, इ0 उमेश वर्मा, इ0 पारितोष त्रिपाठी, डॉ बृजेश भारद्वाज, इ0 समृद्धि सिंह, इ0 कृति श्रीवास्तव, इ0श्वेता मिश्र, इ0 रमेश मिश्र, इ0 अनुराग सिंह, इ0 विनीत सिंह, इ0 अवधेश मौर्या, डॉ. अतुल सेन सिंह अन्य छात्र-छात्राएं तथा कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

फैजाबाद जंक्शन का नहीं हो सका अपेक्षित विकास

पुलवामा के शहीदों के लिए भाजपा किसान मोर्चा ने एक लाख एक हजार का भेजा ड्राफ्ट