मुकदमा दर्ज होने पर दो गुटों में हुई जमकर मारपीट

  • ग्रामीणों के आक्रोश से बेबस नजर आयी पुलिस

  • नाबालिग छात्रा के कथित अपहरण पर पुलिस ने दर्ज किया था मुकदमा

बीकापुर। मलेथूकनक गॉव में नाबालिग छात्रा के कथित अपहरण का मुकदमा दर्ज होने के बाद अचानक भडके विवाद से फूटे जनाक्रोश में ग्रामवासियों व उनके समर्थको के दो गुटो के बीच करीब 4 घण्टो से अधिक समय तक चली मारपीट तोडफोड खेदी-खेदा व लूटपाट जैसी घटना से जमकर हुए तांडव में पूरी रात समूचा गॉव भय और दहशत में कराहता रहा। आक्रोश भरे तांडव की सूचना पर पहुची यूपी 100 डायल पुलिस टीम और कोतवाली की पुलिस टीम भी आक्रोशित भीड के सामने कुछ देर के लिए वेवश नजर आयी। रात करीब 12 बजे के आसपास मामला तब थमा जब अगल बगल के थानो की पुलिस और पीएससी व पुलिस के अफसर गॉव में पहुचकर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए मोर्चा बन्दी कर ली। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए एसपी देहात संजय कुमार पुलिस क्षेत्राधिकारी अरविन्द चैरसिया इंस्पेक्टर राम चन्द्र सरोज मलेथूकनक गॉव में पुलिस के जवानो के साथ कैम्प किये हुए है। एसपी देहात संजय कुमार ने बताया कि मामला शान्त होने के बाद गॉव से रात में ही पीएससी लौट गई थी। किन्तु सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए गॉव में एक सेक्शन पीएससी को मगाया जा रहा है। जो देर शाम तक गॉव पहुच जायेगी। इस बीच आज दिन में एसपी देहात संजय कुमार ने पुलिस क्षेत्राधिकारी श्री चैरसिया व कोतवाली पुलिस टीम के साथ गॉव में पैदल भ्रमण कर कानून व्यवस्था की समीक्षा भी की। उन्होने कहा कि मामला पूरी तरह शान्त और नियंत्रण में है। एहतिहातन पीएससी को बुलाया गया है। मलेथूकनक गॉॅव में तांडवी बवाल की यह घटना सोमवार की देर शाम करीब 8 बजे के आसपास से शुरू होकर रात लगभग 12 बजे तक चली। तहरीर में आरोप है कि आक्रोशित ग्रामीणों की भीड़ लाठी डण्डा गडासा गहदाला हसिया जैसे औजारों से लैस थे।
कथित छात्रा अपहरण सहित मलेथूकनक गॉव में हुए तांडव के अलग अलग मामले में कुल 4 मुकदमें बीकापुर कोतवाली में पंजीकृत किये गये है। जिनमें कुल 71 नामजद अभियुक्त तथा पचासों अज्ञात आरोपी शामिल है। इस प्रकरण में अब तक बीकापुर पुलिस ने कुल 23 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल रवाना कर चुकी है। जेल भेजे गए लोगो में विवके सिंह ऋषिकेश विशाल सिंह ज्वाला सिंह राकेश यादव तथा राहुल भारती रामकुबेर रामजनम अतुल कुमार राजकुमार अरूण कुमार नन्दलाल रमेशचन्द्र रामगरीब विजय कुमार प्रदीप कुमार सुजीत कुमार रविशंकर राम बहादुर फूलचन्द अर्जुन निषाद विनोद कुमार व अश्वनी कुमार के नाम शामिल है अन्य अभियुक्तो की तलाश जारी है। आरोपी घर छोडकर फरार है लम्बे चैडे चार पटी वाले मलेथूकनक गॉव के दो तिहाई हिस्से में सन्नाटा पसरा है।
पुलिस रिर्पोट तथा अन्य सूत्रों से मिली खबरों के मुताबिक बवाल की शुरूआत सोमवार की शाम तब हुई जब 13 वर्षीय 7वीं की छात्रा के अपहरण का मुकदमा छात्रा के भाई विवेक ंसिह ने बीकापुर कोतवाली में अ0सं0 526/18 धारा 363 366 368 आईपीसी तथा 16/17 पास्को एक्ट के तहत गॉव के बैजराम के भान्जे आशीष निवासी रहेथुआ पूराकलन्दर व बैजराम संजय अश्वनी अतुल और बैजराम की पत्नी के नाम दर्ज करवाकर घर पहुचकर पूछतांछ शुरू की तो आरोपियों व समर्थको ने उनके घर पर धावा बोल दिया और मारपीट करते हुए दरवाजे पर खडी विवेक सिंह व उनके रिस्तेदार रमेश सिंह और वही पर खडी राकेश यादव की अपाची सहित 3 बाइको को तोडकर चकनाचूर कर डाला तथा घर व शौचालय का दरवाजा तोडकर क्षतिग्रस्त कर डाला। तांडव के इस मामले में भी विवेक की तहरीर पर अ0सं0 529/18 धारा 147 149 323 342 452 व 427 आईपीसी एवं 7 सीएल एक्ट के तहत आरोपी अश्वनी अतुल कुमार सुरेश कुमार अशोक कुमार रामगुलाम रामकुबेर राजकुमार रमेश चन्द रामगरीब खिलावन रवी सन्तु रामसेवक मेहीलाल बैजराम अनिल कुमार अरूण कुमार विजय कुमार रामजनम राहुल नन्दलाल हल्सन अनन्तराम रामदास भारत राम चन्दर व एक अज्ञात के विरूध मुकदमा दर्ज कराया गया है। इसके बाद उग्र भीड यहा से चलकर राकेश यादव के घर पर पहुची और घर का दरवाजा खिडकी तोडते बाउण्ड्रीवाल फांदकर घर में घुस गई और आलमारी तोडकर 5 हजार रूपये घडी लूट लिये दरवाजे पर खडी बाइक कूलर सहित घर के तमाम कीमती सामान को तोडफोड कर नष्ट भ्रष्ट कर डाला। इस दौरान परिजन एक कमरे के अन्दर दहशतजदा होकर छुपे रहे। इस मामले में राकेश यादव की तहरीर पर अ0सं0 528/18 धारा 395 504 506 427 आईपीसी व 7/3 लोक सम्पत्ति अधिनियम के तहत आरोपी सुरेश रामगुलाम रामकुबेर शेषराम अतुल आशुतोष भारत अरूण रामजनम अशोक कुमार हल्सन सहित 32 लोगो को नामजद करते हुए मामला दर्ज कराया गया है। ताण्डव के इसी मामले में अश्वनी की भी तहरीर पर आरोपी विवेक सिंह ज्वाला सिंह विशाल सिंह चन्दे सिंह डिम्पल सिंह राकेश यादव ऋषिकेश व कुवर बहादुर सिंह सहित 8 लोगो के विरूद्व अ0सं0 527/18 धारा 147 323 504 506 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कराया गया है। इस प्रकरण में कुल दर्ज 4 मुकदमों में एक मुकदमा छात्रा के अपहरण से जुडा है। जबकि अन्य तीनो मुकदमें दोनों गुटो के खिलाफ हुए तांडवी बवाल तोडफोड व हिन्सा पर उतारू उग्र भीड़ से जुडा हुआ है।

इसे भी पढ़े   विकलांग दंपत्ति ने एसएसपी कार्यालय पर शुरू किया आमरण अनशन

-अशोक वर्मा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More