The news is by your side.

चौड़ीकरण से प्रभावित लोगों से समन्वय व सहमति प्राप्त करने में लायें तेजी : नितीश कुमार

-चौदहकोसी एवं पंचकोसी परिक्रमा मार्गों के चौड़ीकरण के प्रगति की डीएम ने की समीक्षा

अयोध्या। जिलाधिकारी नितीश कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में चौदहकोसी एवं पंचकोसी परिक्रमा मार्गों के चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण संबंधी कार्यों के प्रगति की समीक्षा की। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने दोनों पक्षों के चैड़ीकरण/सुदृढ़ीकरण से प्रभावित भू-स्वामियों/ भवन स्वामियों/दुकानदारों से समन्वय कर उनकी सहमति प्राप्त कर नियमानुसार भूमि का बैनामा तथा मूल्यांकित धनराशि का भुगतान प्रभावित भवनों का नियमानुसार मूल्यांकन एवं मूल्यांकित धनराशि का भुगतान तथा दुकानदारों को नियमानुसार पुनर्वास और पुनस्थापित धनराशि के भुगतान के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए।

Advertisements

बैठक में जिलाधिकारी ने चोदह एवं पंचकोसी परिक्रमा मार्गो के चौड़ीकरण से प्रभावित लोगों से समन्वय एवं सहमति प्राप्त करने के कार्य में तेजी लाने तथा सहमति के बाद तत्काल बैनामा एवं मूल्यांकित धनराशि का भुगतान तत्काल सुनिश्चित कराने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने भूमि एवं भवनों के मुआवजे तथा आर. एण्ड आर. के भुगतान के तत्काल बाद भवन स्वामियों एवं दुकानदारों की सहमति से ध्वस्तीकरण का कार्य भी तेजी से कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि रामपथ के तर्ज पर सहमति प्राप्त करने, बैनामा कराने एवं मुआवजे की राशि के भुगतान हेतु राजस्व विभाग, लोक निर्माण विभाग के पर्याप्त टीमें चैनेजवार (खण्डवार) संयुक्त टीमें लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी टीमों में पर्याप्त कर्मी (जेई, कानूनगो, लेखपाल आदि) हो। किसी भी चैनेज में किसी भी प्रकार की समस्या आने पर उच्चाधिकारी तत्काल मौके पर जाकर उसका निराकरण कराये।

प्रत्येक टीम को रोजाना सहमति/बैनामा/मुआवजा भुगतान का लक्ष्य निर्धारित किया जाए तथा सभी टीमें लक्ष्य के अनुरूप कार्य सुनिश्चित करें तथा रोजाना के प्रगति की स्थिति से अवगत भी कराये। जिलाधिकारी ने समस्त कार्यों में पारदर्शिता एवं स्पष्टता का विशेष ध्यान रखा जाये। प्रभावित लोगों को प्रत्येक दशा में विनम्रता के साथ बेहतर व्यवहार किया जाये उनकी शंकाओं एवं समस्याओं को गंभीरता के साथ सुनकर त्वरित एवं गुणवत्तापूर्ण समाधान एवं निराकरण किया जाये। मुआवजा/आर. एंड आर. (पुनर्वास एवं पुनस्थापित) भुगतान में किसी स्तर पर विलम्ब न हो। पूर्ण रूप से विस्थापित हो रहे लोगों की संख्या से भी जिलाधिकारी ने अवगत कराने के निर्देश दिये।

इसे भी पढ़े  पीएम मोदी का विजन, देश को एक आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाने को मिशन के तौर पर करेंगे कार्य : पंकज सिंह

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने रामपथ एवं भक्तिपथ के कार्यों के प्रगति की भी जानकारी संबंधित अधिशाषी अभियंताओं से ली तथा जनसामान्य की सुरक्षा सुनिश्चित कराते हुए तीव्र गति से कार्य कराने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को समस्त कार्यों की गुणवत्ता एवं फिनिशिंग पर प्रत्येक दशा में सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए। बैठक में जिलाधिकारी सभी कार्य स्थलों पर सुरक्षा के दृष्टिगत नियमानुसार बैरिकेडिंग करके कार्यों को कराने हेतु निर्देशित किया।
बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर विशाल कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सुश्री पूजा साहू, तहसीलदार सदर, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड, निर्माण खंड तीन व चार के साथ ही समस्त टीमों के सहायक अभियंतागण, जेई, लेखपाल, कानूनगो व अन्य कर्मी एवं अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.