The news is by your side.

सुरक्षा ही जीवन का अर्थ, सुरक्षा के बिना जीवन व्यर्थ : मधुबन सिंह

-सड़क सुरक्षा पर हुई क्विज, पोस्टर व स्लोगन लेखन प्रतियोगिता


अयोध्या। का.सु. साकेत महाविद्यालय के जेपीएन सिंह सभागार में शुक्रवार को रोवर्स रेंजर्स की ओर से सड़क सुरक्षा माह के तहत ‘सड़क सुरक्षा – जीवन रक्षा’ विषय पर आयोजित कार्यक्रम का प्रारंभ दीप प्रज्जवलन व माल्यार्पण से हुआ। मुख्य अतिथि एसपी सिटी मधुबन सिंह ने यातायात से होने वाले वर्ष भर की दुर्घटना का लेखा-जोखा प्रस्तुत करते हुए कहा कि सुरक्षा ही जीवन का अर्थ है, सुरक्षा के बिना जीवन व्यर्थ है। हमें यातायात के नियमों का पालन करना चाहिए और अपनों को भी नियमों का पालन करने के लिए बताना चाहिए, जागरूक करना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. अभय कुमार सिंह ने की। एसपी सदर डॉ. राजेश तिवारी ने कहा कि अपने जीवन और अपनों के जीवन की रक्षा के लिए यातायात के नियमों का पालन करना हमारा नैतिक कर्तव्य और दायित्व है। सीओ यातायात प्रमोद यादव ने विस्तृत रूप से यातायात नियमों के विषय में बताया। धन्यवाद ज्ञापन महाविद्यालय के मुख्य नियंता प्रो. अनिल कुमार सिंह ने किया।

Advertisements

इस अवसर पर तीन प्रतियोगिताएं- क्विज, पोस्टर व स्लोगन लेखन प्रतियोगिता आयोजित की गई। क्विज प्रतियोगिता में 46 बच्चों ने प्रतिभाग किया जिसमें प्रथम स्थान मोहम्मद मुजाहिद रजा बीए तृतीय सेमेस्टर, द्वितीय स्थान मनु त्रिपाठी बीए प्रथम सेमेस्टर, तृतीय स्थान मृत्युंजय जयसवाल बीए प्रथम सेमेस्टर ने प्राप्त किया। पोस्टर प्रतियोगिता में 52 बच्चों ने प्रतिभाग किया जिसमें प्रथम स्थान तान्या पांडेय बीए प्रथम सेमेस्टर, द्वितीय स्थान सोनी गुप्ता इ.ं. तृतीय वर्ष, तृतीय स्थान प्रियंका सोनकर बीए तृतीय सेमेस्टर, स्लोगन लेखन प्रतियोगिता में 37 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया जिसमें प्रथम स्थान शिल्पी श्रीवास्तव, स्नातक तृतीय वर्ष, सविता मौर्या द्वितीय स्थान, स्नातक तृतीय सेमेस्टर, तृतीय स्थान दिशा श्रीवास्तव स्नातक तृतीय सेमेस्टर ने प्राप्त किया। उक्त प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को मुख्य अतिथि विशिष्ट अतिथि के कर कमलों द्वारा पुरस्कृत किया गया।

इसे भी पढ़े  पावर लिफ्टिंग पुरूष प्रतियोगिता में अवध विवि को मिला कांस्य पदक

क्विज प्रतियोगिता में डॉ प्रशांत पांडेय, डॉ वेद मनी, डॉक्टर बद्री विशाल सिंह, डॉ अजीत वर्मा, डॉ. आशीष विक्रम सिंह, डॉ. बृजेश कुमार, निर्णायक व संयोजक की भूमिका निभाई। पोस्टर प्रतियोगिता में डॉ. कोमल गुप्ता संयोजक, डॉ. ऋचा पाठक, डॉ. अंबरीश श्रीवास्तव निर्णायक के रूप में अपनी महती भूमिका निभाई। स्लोगन लेखन प्रतियोगिता में डॉ. वेद प्रकाश वेदी, डॉ. धीरज मिश्रा, डॉ. रजत तिवारी, डॉ. सोनू ने संयोजक व निर्णायक की अहम भूमिका निभाई इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापक प्रो. आशीष सिंह, प्रो. अमूल्य सिंह, प्रो. बीडी द्विवेदी, डॉ. अरविंद शर्मा, डॉ. आशुतोष त्रिपाठी, डॉ. उमापति, डॉ. हरनाम सिंह लोधी, डॉ. रीमा सोनकर, डॉ. आलोक सिंह, डॉ. पूनम जोशी, डॉ रीता सिंह, डॉ. रीता दुबे डॉ. रूपाली श्रीवास्तव एवं समस्त प्राध्यापक, छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। ।

Advertisements

Comments are closed.