The news is by your side.

संत गणिनाथ समाजिक चेतना रथ यात्रा ने किया अयोध्या भ्रमण

– मध्यदेशीय वैश्य समाज के लोगों ने किया स्वागत

अयोध्या। मध्यदेशीय वैश्य समाज जब तक दूसरे समाज के आगे पीछे घूमता रहेगा, तब तक मध्यदेशीय वैश्य समाज का कोई भला नहीं होने वाला है, हमें अपनी जमीन पर पेड़ लगाकर फल खाने की आदत डालनी होगी, तभी मध्यदेशीय वैश्य समाज अपनी संख्या के अनुसार सत्ता व सरकार में भागीदारी पा सकती है। उक्त उद्गार समाज के प्रदेशीय युवा अध्यक्ष मनीष गुप्ता ने पूज्य गणीनाथ जी महाराज की समाजिक चेतना रथयात्रा के अयोध्या भ्रमण के दौरान व्यक्त करते हुए कहा कि आज जो शासन सत्ता में बैठे लोग हैं, उन्हें हमारी ताकत का अंदाजा नहीं है। जिस दिन मध्यदेशीय वैश्य समाज एकजुट हो जायेगा। तभी उन्हें हमारी ताकत का एहसास होगा, और तभी हमारी भागीदारी सुनिश्चित होगी। उक्त अवसर पर बस्ती जनपद से रथयात्रा के साथ आये पूर्व जिला पंचायत सदस्य उमेश मध्यदेशीया ने कहा कि जिस दिन हम एकजुट हुए, उस दिन अन्य समाज को तथा विभिन्न राजनैतिक दलों को हमारे एकता का संदेश जायेगा। जिसके लिए हमें परम् पूज्य गणीनाथ जी एवं संत पल्टूदास जी महाराज के आदर्शो को अपनाना होगा। वहीं रथयात्रा का स्वागत करते हुए समाज के प्रदेशीय नेता केशव बिगुलर एडवोकेट ने कहा कि आज हम संगठित नहीं है, इसलिए हमारे समाज की पहचान नहीं दिख रही है आज आवश्यकता है कि मध्यदेशीय वैश्य समाज के लोग आपसी बैर-भाव भुलाकर एक दूसरे के साथ एकजुटता के रूप में समाज के सामने आवें, और अपनी ताकत का एहसास करावें। तभी मध्यदेशीय वैश्य समाज की गणना अन्य समाजों के साथ इज्जत से की जायेगी।

Advertisements

पूज्य गणीनाथ जी महाराज समाजिक एवं राजनैतिक चेतना रथयात्रा का जनपद अयोध्या कि सीमा पर स्वागत नितिन कुमार गुप्ता, कौशल किशोर गुप्ता, तनय गुप्ता, रामकुमार गुप्ता व भानचन्द्र गुप्ता ने किया। उक्त अवसर पर नितिन कुमार गुप्ता ने कहा कि पूज्य गणीनाथ की रथयात्रा का स्वागत करके हम सभी धन्य हुए। रथयात्रा नयेघाट होते हुए पल्टूदास अखाड़ा पहुंची जहां रथयात्रा का स्वागत प्रकाश चन्द्र गुप्ता, सुनील कुमार गुप्ता, डॉ0 दीपक गुप्ता, शिवम गुप्ता, आकाश गुप्ता आदि ने करते हुए आये हुए अतिथियों का स्वागत किया। भोजनोपरान्त यात्रा नगर की ओर आगे बढ़ी।

इसे भी पढ़े  डॉ. अम्बेडकर का व्यक्तित्व अत्यंत विराट व बहु-आयामी : प्रो. मनोज अग्रवाल

अयोध्या में सर्वप्रथम स्वागत श्रीचन्द्र मध्यदेशीया, डॉ0 आर0सी0 गुप्ता, सरयू प्रसाद गुप्ता, प्रदीप कुमार गुप्ता व रानोपाली पर लक्ष्मीकान्त गुप्ता, अंकुश गुप्ता, सचिन गुप्ता, अनुराग गुप्ता आदि ने किया वहीं साहबगंज में यात्रा का स्वागत रजनीश गुप्ता, आशीष गुप्ता, मदन गुप्ता, कमल किशोर गुप्ता, विकाश गुप्ता आदि तथा जमुनियाबाग में पार्षद सुधारानी गुप्ता के नेतृत्व में भोलानाथ गुप्ता, चन्द्रिका प्रसाद गुप्ता, गणेश जी गुप्ता, आकाश गुप्ता एवं आलोक आदि ने रथयात्रा का स्वागत किया। चौक में रथयात्रा का स्वागत अजय कुमार गुप्ता, अनूप कुमार गुप्ता, रमाशंकर गुप्ता, पुरूषोत्तम गुप्ता, आदि ने किया। वहीं रिकाबगंज चौराहे पर पार्षद बुद्धिपाल के साथ जयप्रकाश, अमल गुप्ता आदि ने रथयात्रा का स्वागत किया। आगे चलकर रथयात्रा गणपति गेस्ट हाउस पहुंची, जहां रथयात्रा का स्वागत व अभिनन्दन अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन जनपद अयोध्या के जिला अध्यक्ष मनोज जायसवाल एवं पूर्वांचल के गांधी भागीरथ पचेरीवाला के नेतृत्व में रोहिताश्व चन्द्र राजू, देवेन्द्र अग्रहरी, डॉ0 अखिलेश वैश्य, कसौधन समाज के युवा प्रदेश अध्यक्ष राम बाबू कसौधन व महासम्मेलन के अरविन्द कसौधन पंकज अग्रहरी, राजू भोले, अरूण अग्रहरी, अंश गुप्ता, अग्रहरी समाज के जिला महामंत्री अरूण अग्रहरी, राजेश गुप्ता, श्रवण जायसवाल, अवि अग्रहरी, दिलीप कौशल, प्रताप जायसवाल आदि सैकड़ों वैश्य बन्धुओं ने किया।

रथयात्रा का समापन देर रात लगभग 09ः00 बजे झुनकीघाट स्थित शत्रुहन निवास पहुंचकर हुई, जहां रथ पर विराजमान गणीनाथजी महाराज, पल्टूदास जी महाराज, एवं सरयूदास जी महाराज के चित्रों की आरती व पूजन रथयात्रा के साथ आये वृन्दावन से आये राम प्रसन्न दास जी महाराज एवं अयोध्या के प्रख्यात संत प्रमोद दास शास्त्री जी महाराज द्वारा किया गया, वहीं आयोजकों द्वारा रथयात्रा में आये, अतिथियों एवं पदाधिकारियों का आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया गया।

Advertisements

Comments are closed.