The news is by your side.

कल्याण सिंह के स्वास्थ्य को लेकर संत धर्माचार्यो ने किया यज्ञ अनुष्ठान

-विहिप ने कारसेवक पुरम में यज्ञशाला के हवन कुंड में डलवाई 108 आहूतियां

अयोध्या। कारसेवकपुरम् मे पूर्व मुख्यमंत्री पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह के स्वास्थ्य को लेकर संत धर्माचार्यो और विश्व हिंदू परिषद ने यज्ञ अनुष्ठान कर उनके शीघ्र स्वस्थ होने की भगवान से प्रार्थना किया।

Advertisements

सोमवार योगिनी एकादशी को द्वितीय वेला में पंडित दुर्गा प्रसाद गौतम आचार्य नारद भट्टाराई तथा आचार्य दीपेंद्र के कुशल मार्गदर्शन में पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य को लेकर महाशिव माता दुर्गा माता गायत्री तथा हनुमान की उपासना करते हुए वैदिक विद्वानों ने यज्ञशाला के हवन कुंड में 108 आहुतियां डलवाई इस दौरान श्री राम जन्मभूमि क्षेत्र के पार्षद पुजारी रमेश दास;कारसेवक पुरम् प्रभारी शिवदास; विश्व हिंदू परिषद मीडिया प्रभारी शरद शर्मा महंत अवनीश दास शास्त्री; सर्वेश रामायणी; बाबा हजारी दास; बालचंद वर्मा; आनंद कुमार गुलशन वर्मा आदि उपस्थित रहे। इस अवसर पार्षद रमेश दास ने कहा पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह जी का योगदान सदैव अविस्मरणीय रहेगा आज वह अस्वस्थ चल रहे हैं इसलिए व शीघ्र स्वस्थ होकर समाज के बीच में पुनः आए इसके लिए अपने इष्ट देव से प्रार्थना की गई।

प्रभारी शिव दास ने कहा कल्याण सिंह का सामाजिक जीवन और राजनीतिक जीवन दोनों समाज के लिए अनुकरणीय है । उन्हों ने मंदिर आंदोलन अभियान में जिस प्रकार अपना योगदान दिया वह सभी के लिए स्मरणीय बना रहेगा आज वह अस्वस्थ चल रहे हैं व शीघ्र स्वस्थ हो यही ईश्वर से प्रार्थना है। कार्यक्रम के यजमान और विश्व हिंदू परिषद के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा पूर्व मुख्यमंत्री पूर्व राज्यपाल और हम सबके सदैव प्रिय बने रहने वाले; आदरणीय कल्याण सिंह का अस्वस्थ होना चिंता का विषय है।उनका जीवन देश के लिए महत्वपूर्ण है भगवान से आपके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं जिससे आप पूर्व की भाँति उसी उत्साह,लगन और मनोयोग से कार्य कर सकें जिसके लिए वह प्रसिद्ध हैं।

इसे भी पढ़े  कुलपति ने प्रवेश प्रक्रिया को लेकर विभागाध्यक्षों के साथ की बैठक

उन्होंने कहा अयोध्या मोक्षदायिनी है; साथी श्री राम लला की जन्मभूमि और सिद्ध पीठ हनुमान गढ़ी में विराजमान हनुमान जी के संरक्षण में है। यहां पर किया गया पूजा अनुष्ठान कल्याण सिंह को आरोग्यता अवश्य प्रदान करेगा वह दीर्घायु होंगे ऐसा विश्वास है।

Advertisements

Comments are closed.