The news is by your side.

संत परमहंस राम मंगल दास का शुरू हुआ जन्मोत्सव

जन्मोत्सव में वितरित की गयी चेचक से बचाव की औषधि

अयोध्या। अवधपुरी मम् पुरी सुहावनि, उत्तर दिशि सरजू बह पावनि। जैसी सिद्ध नगरी अयोध्या धाम को अपनी आध्यात्मिक शक्ति से तरंगित करने वाले महान संत गोकुल भवन के परमहंस राम मंगल दास के जन्मोत्सव समारोह का शुभारम्भ रविवार को श्री मणिराम दास की छावनी के चारधाम मंदिर में महान्त कमल नयन दास शास्त्री तथा जानकी घाट स्थित श्रीराम वल्लभाकुंज में महान्त राज कुमार दास अधिकारी एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं सुभाष चन्द्र बोस राष्ट्रीय विचार केन्द्र के अध्यक्ष शक्ति सिंह द्वारा गोकुल भवन के महाराज के चित्र पर माल्यार्पण करके एवं चेचक से बचाव की औषधि निःशुल्क वितरित करके किया गया।
12 फरवरी 1893 को सीतापुर जनपद के सिधौली तहसील के ईश्वरवारा ग्राम में पंडित शिव दर्शन लाल के घर जन्म लेने वाले अर्जुन लाल ने अनेकानेक तीर्थ स्थलों पर भ्रमण करने के पश्चात श्री अयोध्या जी को अपनी तपस्थली बनाया। दीक्षा लेने के उपरान्त बड़े महाराज बाबा बेनी माधवदास जी से उनका अध्यात्मिक नाम राम मंगल दास पड़ा एवं गोकुल भवन उनकी तपोभूमि। श्री महाराज के उद्देश्यों एवं संदेशों को जन-जन तक पहुंचाने में प्रयासरत सुरेन्द्र बहादुर सिंह सेवा संस्थान के सचिव डॉ. शैलेन्द्र विक्रम सिंह ने उपरोक्त जानकारी देते हुए बताया कि निःशुल्क औषधि वितरण शिविर में टी0वी0एस0 मेमोरियल होम्योहाल मसौधा के डॉ0 अभिषेक सिंह, मदन मोहन दास बनारसी बाबा, विश्वनाथ दास, महेशदास, अवधेश तिवारी, सुनील मिश्रा, प्रदीप शुक्ला, लवकुश यादव एवं शैलेन्द्र शास्त्री आदि ने उपस्थित रहकर कार्यक्रम को सफल बनाया।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.