The news is by your side.

163 नाविकों व गोताखोरों को वितरित किया गया सेफ्टी किट

अयोध्या। महापौर महंत गिरीश पति त्रिपाठी व जिलाधिकारी नितीश कुमार ने तहसील सदर सभागार में तहसील सदर क्षेत्र के 163 नाविकों एवं गोताखोरों को ‘सेफ्टी किट‘ वितरित किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के द्वारा नाविकों को विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने तथा आपदा जैसी विपरीत परिस्थितियों में नाविकों गोताखोरों द्वारा अपने दायित्वों का सम्यक निर्वहन करने के दृष्टिगत आज उन्हें सेफ्टी किट का वितरित किया गया। उन्होंने कहा कि अयोध्या धाम आने वाले श्रद्वालुओं पर्यटकों को सुरक्षित नौका बिहार कराने तथा नौका विहार के सुरक्षा मानकों को और बेहतर करने का यह कार्य उत्तरोत्तर किया जायेगा। इस किट की मदद से हमारे नाविक गोताखोर विपरीत परिस्थितियों में अथवा आपदा की स्थिति में और बेहतर कार्य कर सकेंगे तथा इससे सुरक्षित नौकायन सुनिश्चित होगा।

Advertisements

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि नाविक एक अच्छे तैराक होते है किन्तु कभी कभी अति आत्म विश्वास में दुर्घटना हो जाती है ऐसे में अच्छा तैराक न जानने वाले व बच्चों को नदी में जाने से रोकें। चिन्हित दुर्घटना वाले क्षेत्रों में जाने से सभी को रोकने का प्रयास करें। इसी के साथ ही अन्य लोग भी तैराकी सीखने का प्रयास करें। इस दौरान उन्होंने बताया कि अयोध्या में भविष्य में नौकायन की अपार संभावनायें है यहां पर सीएनजी एवं सोलर वोट संचालन सम्बंधी योजना पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। सोलर क्रूज का कार्य चल रहा है।

बड़ी बड़ी शिपिंग कम्पनियां आ रही है इससे यहां तकनीकी के साथ ही रोजगार बढ़ेगा। जिलाधिकारी ने नाविकों को अपने नावों को सुंदर एवं आकर्षक रंगों से रंगने तथा उसे सजाये रखने हेतु प्रेरित किया, जिससे श्रद्धालुओं/पर्यटक आकर्षित हों। उन्होंने कहा कि नाविक आसपास के क्षेत्रों व स्थलों के बारे में भी जानकारी रखें तथा उसे पर्यटकों को बतायें। पर्यटकों के साथ बेहतर आचरण एवं व्यवहार करें तथा बेहतर सुविधा प्रदान करें। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि पवित्र सरयू नदी में आगामी समय में उपयुक्त सीजन एवं मौसम में समय निर्धारित करके नौकायन प्रतियोगिता करायी जायेगी जिससे नौकायन क्षेत्र में प्रतियोगात्मक माहौल का सृजन होगा। नौकायन क्षमता में वृद्धि एवं सुधार होगी। उन्होंने तैराकी की ट्रेनिंग प्रोग्राम भी आयोजित किये जाने को कहा।

इसे भी पढ़े  प्राण प्रतिष्ठा होने के बाद पहले राम जन्मोत्सव में दिखा भक्तों का उत्साह

इस अवसर पर महापौर महंत गिरीश पति त्रिपाठी ने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में नाविकों एवं गोताखोरों के प्रति दायित्वों के दृष्टिगत सेफ्टी किट प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सेफ्टी किट में लाइफ जैकेट, लाइफ वाय, टार्च, प्राथमिक उपचार किट, रस्सी, पतवार, लम्बा बांस आदि उपकरण सम्मिलित है। उन्होंने श्रद्धालुओं के प्रति नाविकों को अपना कार्य व्यवहार, आचरण बेहतर रखने को कहा। इससे दुनिया में हमारी संस्कृति व्यवहार का राम मय संदेश जायेगा। इस अवसर पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी सदर विशाल कुमार, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, तहसीलदार सदर सहित नाविक एवं गोताखोर गण उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.