The news is by your side.

टेस्टिंग, ट्रेसिंग एवं ट्रीटमेंट संबंधी कार्यों की हुई समीक्षा

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय, मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती अनीता यादव, मुख्य राजस्व अधिकारी पीडी गुप्ता, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह आदि की उपस्थिति में इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में कोविड-19 की रोकथाम हेतु किये जा रहे टेस्टिंग, ट्रेसिंग एवं ट्रीटमेंट संबंधी कार्यों की समीक्षा की।

Advertisements

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने विकास खण्ड वार रैपिड रिस्पॉन्स टीमों के साथ टेस्टिंग टीमों को लगाकर निगरानी समितियों द्वारा घर घर जाकर पहचाने गए लक्षण युक्त व्यक्तियों की कोविड जांच आज से ही प्रारंभ कर शीघ्रातिशीघ्र पुराने व नए समस्त लक्षणयुक्त व्यक्तियों की जांच पूर्ण करने व सभी को मेडिसिन किट उपलब्ध कराने के साथ ही आवश्यकतानुसार चिकित्सीय सुविधाएं व परामर्श उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने ग्रामीण इलाकों में दुकानदारों व दूध वालों के भी कोविड जांच कराने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने समस्त निगरानी समितियों/आशा संगिनियों को पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए जिससे गांव में किसी में भी कोविड के लक्षण प्रदर्शित होने पर आशा द्वारा तत्काल उसे किट उपलब्ध कराई जा सके। इसी के साथ ही समस्त उपजिलाधिकारियों, खंड विकास अधिकारियों व बाल विकास परियोजना अधिकारियों को भी पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट उपलब्ध कराने को कहा जो गांव में भ्रमण के दौरान लक्षण युक्त व्यक्तियों को किट उपलब्ध कराएंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में किसी व्यक्ति में कोविड के लक्षण प्रदर्शित होने तत्काल उसे मेडिसिन किट उपलब्ध कराएं, उसकी जांच रिपोर्ट आने का इंतजार न करें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जनपद में कोविड के टीकाकरण की स्थिति की भी समीक्षा की तथा इसमें प्रगति लाने के निर्देश दिए।

इसे भी पढ़े  अयोध्या में निर्माणाधीन सेतुओं के प्रगति की हुई समीक्षा

 

Advertisements

Comments are closed.