राम की पैड़ी सरकार की प्राथमिकता: धर्मपाल

बाढ़ से सम्बन्धित पूर्व की तैयारियों पर की गयी समीक्षा

Advertisement

फैजाबाद। सिंचाई एवं सिंचाई (यान्त्रिक),मत्री धर्मपाल ने सर्किट हाउस मंे बाढ़ से सम्बन्धित पूर्व की तैयारियों के सम्बन्ध में बाढ़ खण्ड व अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक मंे उन्होनें कहा कि सभी विभाग आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें, सिंचाई विभाग अपातकालीन परिस्थितियों से निपटने की तैयारी पूर्ण करें जिससे ग्रामिणो व किसानो को कोई दिक्कत न हो। उन्होनें कहा कि बाढ़ के दौरान सांपो के काटने की घटनायें बढ़ जाती है इसलिए सभी स्वास्थ्य केन्द्रो पर इसकी दवायें उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि बाढ से निपटने की पूरी मुकम्मल व्यवस्था है जनपद के पांच तहसीलो में से तीन तहसीलों रूदौली, सोहावल तथा सदर बाढ़ से ज्यादा प्रभावित होते है। को ध्यान में रखते हुये बाढ़ की स्थिति में खाद्य समाग्री चिकित्सा सुविधायें, पषुओं के लिये चारा व टीकाकरण तथा सुरक्षा से सम्बन्धित तैचारियां पूर्ण कर ली गई है। जनपद में 9 बाढ़ सुरक्षा समितियों का गठन कर लिया गया है। जनपद में 13 बाढ़ केन्द्रो/बाढ़ चैकियो की स्थापना की गई है। 145 नावें तथा नाविकों को पूरा डीटियल बना लिया गया है 15 मोटर बोर्ड तथा 28 गोताखोर की भी व्यवस्था की गई है। यदि और गोताखोर मानक के अनुरूप आते है तो उन्हें भी तैनात किया जायेगा। होमगार्डस में जो गोताखोर हैं उन्हें भी तैनात किया जायेगा। बाढ़ खण्ड को बन्धों की स्थिति सही करना सुनिष्चित करने के निर्देष दिये। उन्होनें कहा कि जहां पर खनन से बन्धो को नुकसान पहंुचाया जा रहा है या पहुंचने की सम्भावना है ऐसे खनन पट्टो को निरस्त भी किया जायेगा। हमारा पहला लक्ष्य जन जीवन को होने वाले हानि से बचाना है।
मंत्री ने कहा कि राम की पैड़ी सरकार की प्राथमिकता पर है। हरि की पैड़ी की तरह राम की पैड़ी भी दिखाई दें। इसका कार्य शीघ्र ही पूर्ण करा लिया जायेगा। उन्होने कहा कि बाढ़ से निपटने के लिये ड्रोन व अन्य हाईटेक सुविधाओं की सहायता से कार्य किया जायेगा। उन्होने कहा कि इस बार वर्षा अच्छी होने की सम्भावना है इसलिए सभी सम्बन्धित अधिकारी अपनी-अपनी व्यवस्थाओं से सम्बन्धित पूरी तैयारी समय से पहले पूर्ण कर लें। जिससे आकस्मिक आपदा पर किसी को किसी भी प्रकार की कोई असुविधा न उत्पन्न हों। बैठक में विधायक अयोध्या वेद प्रकाश गुप्ता, जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार, एस0एस0पी0 मनोज कुमार, ए0डी0एम0 वित्त एवं राजस्व मदन चन्द दुबे व अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।