The news is by your side.

रामानुजम ने गणित के स्वरूप को ईश्वर की अभिव्यक्ति में किया ग्रहण : प्रो. संत शरण

-गणित एवं सांख्यिकी विभाग में मनाया गया रामानुजम का जन्मदिवस

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के गणित एवं सांख्यिकी विभाग में गुरूवार को श्रीनिवास रामानुजन के जन्मदिवस पर राष्ट्रीय गणित दिवस-2022 का आयोजन किया गया। इसके साथ ही छात्रों के बीच क्विज व ओरल के प्रतियोगिता के साथ रामानुजम पर बनी फिल्म दिखाई गई। कार्यक्रम में बतौर वक्ता विभागाध्यक्ष प्रो. संत शरण मिश्र ने छात्रों से कहा कि आज के दिन को गणित की अविलक्षन प्रतिभा को याद करते हुये श्रीनिवास रामानुजन को सम्मान देना पूरे भारतीय मनीषा का एक नैतिक दायित्व है।

Advertisements

उन्होंने रामानुजम के जीवन वृति एवं उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि गणित के बिना, ब्रह्मांड के समग्रता का ज्ञान अधूरा है और इसके बिना ब्रह्मांड की किसी भी घटना का सम्पूर्ण ज्ञान सम्भव नहीं है। श्री निवास रामानुजन ने गणित के स्वरूप को ईश्वर की अभिव्यक्ति के रूप में ग्रहण किया। उनके अनुसार गणित के अध्यन्न से भौतिक जीवन में सकारात्मक रूपान्तरण के साथ साथ व्यक्ति की आद्यात्मिक चेतना का भी विकास होता है। दूसरी ओर विभाग के छात्रों के बीच क्विज और ओरल प्रतियोगिता आयोजित की गई। ओरल प्रतियोगिता में प्रथम स्थान शोधार्थी ललित कुमार ने प्राप्त किया। द्वितीय स्थान श्रद्धा पटेल व कहकशा परवेज मिला।

वहीं गौरव यादव, सीरत ईमान, अनूप मिश्रा, साक्षी वर्मा, हिटलर तिवारी सहित अन्य विद्यार्थियों को सांत्वना पुरस्कार भी दिया गया। वहीं क्विज प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार रजत सिंह, सूरज तिवारी, राम सानूप को मिला। द्वितीय पुरस्कार आकांक्षा सिंह को दिया गया। कार्यक्रम का संचालन सह-आचार्य, डॉ अभिषेक सिंह ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 पी० के० द्विवेदी द्वारा किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने विभाग के समस्त शिक्षकों के साथ डॉ. संदीप रावत, सुश्री शालिनी मिश्रा, सुश्री अनामिका पाठक और समस्त शोधार्थी एवं विद्यार्थियों की विशेष भूमिका रही।

Advertisements

Comments are closed.