The news is by your side.

कोरोना संक्रमण शमन के लिए रामादल ट्रस्ट ने किया अनुष्ठान

-मृत्संजीवनी महामृत्युंजय महानुष्ठान में जुड़े हजारों लोग

अयोध्या। कोरोना संक्रमण के शमन हेतु रामादल ट्रस्ट के तत्वावधान मे राष्ट्रीय स्तर पर चल रहे मृत्संजीवनी महामृत्युंजय महानुष्ठान में देश के 13 प्रान्तों से जुड़े हजारों लोग अपने-अपने स्थान पर रहकर ही प्रातः ध्यान-योग-जप एंव सायं काल अपनी सामर्थ्य के अनुसार आहुति का कर्म करते हुए अन्य लोगों को भी दूरभाष के माध्यम से जागरूक कर महानुष्ठान से जोड़ रहे है।

Advertisements

जानकारी देते हुए रामादल ट्रस्ट अध्यक्ष पण्डित कल्किराम ने कहा कि महानुष्ठान मे शामिल हो रहे लोगों ने बताया कि ध्यान योग जप करने के बाद शरीर मे ऊर्जा का अद्भुत संचार तो होता ही है आत्मविश्वास मे भी अविस्मरणीय वृद्धि का अनुभव होता है।कई स्थानों पर शुद्ध उच्चारण के चलते जहां मृत्संजीवनी महामृत्युंजय महामन्त्र के जप में असुविधा होती है उन्हे गायत्री महामन्त्र का जप करने को कहा गया है।

शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढाने के साथ-साथ नकारात्मकता को जड़ से समाप्त कर आत्मविश्वास को प्रबल बनाने का सबसे अचूक और अभेद्य उपाय है गायत्री और मृत्संजीवनी महामृत्युंजय महामन्त्र। दवाई के साथ-साथ कड़ाई कर जीतेंगे कोरोना की लड़ाई। ध्यान-योग-जप ही एकमात्र वह उपाय है जिससे शरीर को निरोगी रखकर आत्मविश्वास का पहाड़ खड़ा किया जाना सम्भव है।

 

Advertisements
इसे भी पढ़े  बुद्ध पूर्णिमा पर अयोध्या में उमड़ा श्रद्धालुओं का जनसैलाब

Comments are closed.