The news is by your side.

राममंदिर निर्माण : तीन फिट ऊंचा, आठ फीट लम्बा व चार फीट चौड़ा होगा सिंघासन

-प्राण प्रतिष्ठा से पहले बन जायेगा परकोटे का द्वार, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने जारी की निर्माण प्रगति की तस्वीरें


अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि पर बन रहे भव्य राम मंदिर के गर्भगृह में भगवान के विराजमान कराए जाने के लिए संगमरमर की शिला का सिंघासन राजस्थान में तैयार हो रहा है। जो दिसंबर तक बन जाएगा। ट्रस्ट द्वारा बताया जा रहा है कि कि गर्भगृह में रखा जाने वाला सिंघासन तीन फीट ऊंचा, आठ फीट लंबा और चार फीट चौड़ा होगा। जिस पर सोने का पत्तल लगाया जाएगा।

Advertisements

वहीं प्राण प्रतिष्ठा से पहले राम मंदिर के भूतल और प्रथम तल का निर्माण पूरा हो जाएगा। इसके साथ मंदिर में प्रवेश के लिए परकोटे के द्वार को भी तैयार किया जा रहा है। सोमवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राम मन्दिर निर्माण के प्रगति की कुछ तस्वीरें जारी की हैं। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सहयोगी गोपाल जी राव ने बताया कि 22 जनवरी को भव्य राम मंदिर के गर्भगृह में रामलला विराजमान किया जाना प्रस्तावित है।

अयोध्या और काशी के वेद विद्वान के द्वारा 16 से 22 जनवरी तक अनुष्ठान किया जाएगा। भूतल का काम स्ट्रक्चर की दृष्टि से पूर्ण हो गया है। प्रथम तल का भी काम करीब 80 फीसदी पूर्ण हो गया है। उम्मीद है की 15 नवंबर तक प्रथम तल का काम पूरा हो जाएगा। इसके साथ ही परकोटे का कार्य भी किया जा रहा है। प्राण प्रतिष्ठा से पहले परकोटे के द्वार को तैयार कर लेंगे।

Advertisements

Comments are closed.