गन्ना मूल्य भुगतान को लेकर रालोद ने किया प्रदर्शन

????????????????????????????????????

अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन

Advertisement

फैजाबाद। राष्ट्रीय लोकदल कार्यकर्ताओं ने बकाया गन्ना मूल्य भुगतान सहित पांच सूत्रीय मांग को लेकर पार्टी जिलाध्यक्ष चैधरी रामसिंह पटेल के नेतृत्व में बुधवार को जिला कृषि अधिकारी कार्यालय पर इकठ्ठा हुए और प्रदर्शन कर नारा लगाते हेये पैदल मार्च कर कचेहरी पहुेचे जिलाधिकारी कार्यालय पर अतिरिक्त मजिस्ट्रेट ज्योति सिंह को राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा। राष्ट्रीय लोकदल जिलाध्यक्ष चैधरी रामसिंह पटेल ने बताया कि जनपद के गन्ना किसानों का के0एम0 शुगर मिल पर 8174.12 करोड़ रू0 व रौजागांव शुगर मिल पर 5937.56 करोड़ रू0 आज भी बकाया है। दोनों चीनी मिले 17 अप्रैल तक पेराई की थी। मसौधा शुगर मिल ने 11 मार्च 2018 तक व रौजागांव शुगर मिल ने 14 मार्च 2018 तक ही खरीद किये गए गन्ना मूल्य का भुगतान किया है। दोनों चीनी मिलो पर एक माह से ज्यादा खरीद किये गये गन्ना मूल्य भुगतान बकाया पड़ा है। पूरे देश के गन्ना किसानों का 22000 करोड़ गन्ना मूल्य भुगतान के लिए आज भी बकाया है। जिसमंे से आधे से अधिक उ0प्र0 के किसानों का है। प्रदेश के गन्ना किसानों के गन्ना का भी लगभग रू0 12 करोड़ आज भी बकाया है। चुनाव के समय भारतीय जनता पार्टी के नेता व कार्यकर्ता गांव गांव घूमकर 14 दिनों में गन्ना मूल्य भुगतान कराने व फसलों का वाजिब दाम दिलाने की बात कर रहे थे। पूर्ण बहुमत की सरकार में आने के बाद अपनी सारी घोषणाओं पर खरे नहीं उतर रहे हैं। किसान गन्न्ना मूल्य के भुगतान के लिए परेशान है, भुगतान न होने से खेती का कार्य बाधित हो रहा है। बच्चों की फीस और दैनिक उपयोगी जरूरत की चीजों को नहीं पूरा कर पा रहा है, आये दिन किसान आत्म हत्या करने को मजबूर है। छुट्टा जानवरों से किसानों की नींद गायब हो गयी है। बिजली की आंख मिचैली निरन्तर जारी है। ज्ञापन में मुख्य रूप से गन्ना किसानों का बकाया मूल्य भुगतान तुरन्त सरकार अपनी गारन्टी पर कराये, गन्ना मूल्य बकाया पर ब्याज की धनराशि का भुगतान अविलम्ब कराया जाय, निजी हाथों में बेची गयी गन्ना मिलों को सरकार अपने कब्जें में कर चालू कराये, केन्द्र सरकार द्वारा आलू का आयात शुल्क बढ़ाकर पूर्ववत् 20 प्रतिशत किया जाय और आलू निर्यात के लिए प्रोत्साहन किया जाय, प्रदेश सरकार द्वारा विगत वर्ष घोषित परिवहन भाड़ा, अनुदान की धनराशि, अविलम्ब वितरित किया जाय तथा अब तक वितरित धनराशि में किये गये गोलमाल की सक्षम एजेंसी द्वारा जांच करायी जाये की मांग की है।
प्रदर्शन में जिला उपाध्यक्ष नेतराम वर्मा, प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, युवा जिलाध्यक्ष रामशंकर वर्मा, छात्र लोकदल मध्य उ0प्र0 अध्यक्ष बब्लू यादव, युवा जिला उपाध्यक्ष अमित पाण्डेय, रालोद नेता करिया राम वर्मा, जिला महासचिव अवधेश रावत, देवी शरण वर्मा, ओम प्रकाश वर्मा, डाॅ0 साहेब पटेल, फागू राम वर्मा, रामचन्द्र प्रसाद, आशीष यादव, सोनू यादव, धर्म चन्द्र वर्मा, राम नरायन रावत आदि कार्यकर्ता प्रमुख रूप से मौजूद रहे।