The news is by your side.

बच्चों को उनके रूचि व क्षमता के अनुरूप प्रदान की जाए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा : नितीश कुमार

स्कूल चलो अभियान- 2023 का हुआ शुभारम्भ

अयोध्या। कम्पोजिट विद्यालय डाभासेमर से जनपद स्तरीय स्कूल चलो अभियान-2023 का सांसद लल्लू सिंह, विधायक डा. अमित सिंह चौहान व जिलाधिकारी नितीश कुमार ने दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों एवं उपस्थित बच्चों व अध्यापक गणों द्वारा मुख्यमंत्री जी द्वारा लखनऊ से स्कूल चलो अभियान 2023 तथा संचारी रोग नियंत्रण अभियान के शुभारंभ कार्यक्रम का सजीव प्रसारण को देखा तथा मुख्यमंत्री के उद्बोधन एवं उनके संदेशों को सुना। इस अवसर पर सांसद लल्लू सिंह ने केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा शिक्षा क्षेत्र एवं स्वास्थ्य क्षेत्र में चलाई जा रही विभिन्न जान कल्याणकारी योजनाओं एवं उपलब्धियों से अवगत कराते हुए कहा कि सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने हेतु अभियान रूप में कार्य किया जा रहा है, आम आदमी के बच्चों को अच्छी शिक्षा बिना किसी आर्थिक कठिनाई के सुनिश्चित हो इसी भाव से कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर विधायक अमित सिंह चौहान ने राज्य सरकार द्वारा बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुगमता से उपलब्ध कराने हेतु किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी।

Advertisements

स्कूल चलो अभियान के शुभारंभ के अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित अध्यापकों एवं बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि बेसिक शिक्षा की गुणवत्ता सबसे महत्वपूर्ण है बेसिक शिक्षा के शिक्षकों का इसमें विशिष्ट महत्त्व है किसी भी बच्चे के विकास की शुरुआत प्राथमिक शिक्षा से ही होता है। जिलाधिकारी ने सभी अध्यापकों से अपनी योग्यता का शत प्रतिशत प्रयोग कर बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने हेतु प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि शैक्षिक सत्र का यह पहला दिन एक नई शुरुआत है। हमें कैसे आगे बढ़ना है इसके लिए इस शैक्षिक सत्र के लक्ष्य को निर्धारित करते हुए तथा आज की तिथि तक की कमियों को पहचान कर उसे दूर करके शिक्षा की गुणवत्ता को और बेहतर करने का एक रोड मैप तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि हर बच्चे का बेसलाइन सर्वे करके उन्हें उनकी शैक्षिक स्तर के अनूरूप गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करते हुए निपुण भारत के सभी लक्ष्यों को शत प्रतिशत पूर्ण करना होगा। उन्होंने कहा कि विकास का सर्वोत्तम साधन अपनी कमियों को पहचान कर उसको दूर करना है यदि शिक्षण में बच्चे के रुचि होगी तो कोई भी बच्चा ड्रॉप आउट नहीं होगा।

इसे भी पढ़े  पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की मनी 33वीं पुण्यतिथि

जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक बच्चे की अलग-अलग क्षमताएं होती हैं तथा उनकी अलग-अलग क्षेत्र में रुचि होती है बच्चों को उनके रूचि एवं क्षमता के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान किया जाए। उन्होंने समस्त अध्यापकों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक अध्यापक अपने-अपने विद्यालय में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करें तथा प्रत्येक विद्यालय को मॉडल विद्यालय बनाने का प्रण लें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बच्चों के शैक्षिक स्तर में सुधार लाने के संबंध में विस्तृत जानकारी प्रदान की तथा अध्यापकों को प्रेरित करते हुए कहा की शिक्षा के क्षेत्र में हमारी सफलता का मूल मंत्र सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि हर अध्यापक को निरंतर सीखना चाहिए ज्ञान को ग्रहण करने की कोई सीमा निर्धारित नहीं होनी चाहिए। आप योग शिक्षक हैं ऐसे हैं आपके बच्चों को भी योग्य होना चाहिए अतः सभी बच्चों को रुचिकर एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करें तथा प्रत्येक बच्चे को वास्तविक रूप से निपुण बनाएं यह भाव सभी अध्यापकों का प्रत्येक बच्चे के प्रति होना चाहिए। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष संजीव सिंह वह महानगर अध्यक्ष अभिषेक मिश्रा ने भी शिक्षा एवं स्वास्थ्य में सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के के सिंह ने कहा कि किसी भी अधिकारी एवं कर्मचारी से महत्वपूर्ण कार्य शिक्षकों का है।

स्कूल चलो अभियान के शुभारंभ के कार्यक्रम के अवसर पर सांसद लल्लू सिंह, विधायक डा. अमित सिंह, जिलाधिकारी नीतीश कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के के सिंह द्वारा बेसिक शिक्षा के बच्चों को नई पाठ्य पुस्तकें भी प्रदान की गई इस अवसर पर निपुण भारत के मानक के अनुरूप निपुण एवं मेधावी छात्रों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया, इस दौरान जिलाधिकारी ने बच्चों से गणित के सवाल लगवाए, पहाड़ा एवं कविताएं सुनी तथा बच्चों की सराहना की। कार्यक्रम के अंत में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि 15 अप्रैल तक सभी बच्चों का बेसलाइन सर्वे निर्धारित प्रारूप पर रजिस्टर इंगित कर लिया जाएगा।

इसे भी पढ़े  मतदान समाप्ति के बाद चुनाव संबंधी दस्तावेजों व प्रपत्रों की हुई जांच

कक्षा 1 में प्रवेश ले रहे हैं सभी बच्चों को शैक्षिक सत्र 2023 24 मई पूर्ण रूप से निपुण बनाने के लक्ष्य एवं प्रण के साथ कार्य करें इस हेतु सभी अध्यापक बच्चों के अभिभावकों से भी समन्वय स्थापित कर कार्य करें। उन्होंने कहा कि हमारा विद्यालय एवं हमारे बच्चे ही हमारी पहचान हैं। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि वर्तमान शैक्षिक सत्र की पुस्तकें प्राप्त हो चुकी हैं जिनका वितरण विद्यालयों में शीघ्र ही पूर्ण कर लिया जाएगा इसी के साथ ही उन्होंने बताया कि डीबीटी का कार्य निर्धारित समय के अंतर्गत पूर्ण कर लिया जाएगा। इस अवसर पर उक्त गणमान्य लोगों के साथ ही बड़ी संख्या में अध्यापक गण एवं बच्चे उपस्थित रहे।

 

Advertisements

Comments are closed.